बीपी चेक करने के बहाने डॉक्टर ने युवती के साथ की शर्मनाक हरकत

Jul 20, 2017
बीपी चेक करने के बहाने डॉक्टर ने युवती के साथ की शर्मनाक हरकत

महिला हों या फिर नाबालिग लड़कियां, किसी का भी रपे होती ये घटनाएँ रुकने का नाम ही नहीं ले रही हैं। क्यों कि एक बार फिर से एक नाबालिग लड़की फिर ऐसे ही घटना की शिकार हुई है। ये मामला यूपी के शाहजहांपुर का है जहाँ एक डॉक्टर ने नाबालिग को अपनी हवस का शिकार बनाया। इस घटना को डॉक्टर ने हॉस्पिटल में ही अंजाम दिया।

 

बता दें कि ये मामला यूपी के शाहजहांपुर का है। जहाँ नाबालिग दूसरे गांव में कपड़े देने जा रही थी। जहाँ रास्ते ही में फार्मासिस्ट ने रोककर उस लड़की से कहा कि तुम को डॉक्टर बुला रहे हैं। जिसके बाद नाबालिग हॉस्पिटल के अंदर आ गई। जहाँ उस समय हॉस्पिटल में कोई नहीं था। और फिर जबरदस्ती डॉक्टर लड़की को कमरे में ले गया। और फार्मासिस्ट कमरे के बाहर खड़ा रहा। घटना के बाद नाबालिग ने अपने घर पहंचते ही सब कुछ बता दिया जहाँ मौके पर हॉस्पिटल पहंचते ही लड़की के परिजनों ने डॉक्टर को घेर लिया, लेकिन मौका पाते ही डॉक्टर वहां से भाग निकला। फिलहाल पुलिस ने आरोपी डॉक्टर और फार्मासिस्ट के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। और पीड़ित को मेडिकल टेस्ट के लिए भेज दिया है।

ये भी पढ़ें :-  शिक्षामित्र ने 'स्वतंत्रता दिवस' के दिन किया सुसाइड, डेड बॉडी रख शिक्षामित्रों ने लगाया जाम

 

पीड़िता के अनुसार हुआ ये कि जब वो कपड़े लेकर गांव जा रही थी, तभी फार्मासिस्ट के ये कहने पर ‘तुम को डॉक्टर ने बुलाया है’ वो उसके साथ डॉक्टर के पास चली गई, जहाँ डॉक्टर नरेंद्र यादव अपने ऑफिस में बैठे थे। और उस समय हॉस्पिटल में कोई नही था। उसको देखते ही डॉक्टर साहब उसके पास आए और उससे कहने लगे कि चलो तुम्हारा बीपी चेक कर दें। जिसके लिए लड़की ने तुरंत मना कर दिया लेकिन उसके पीछे खड़े फार्मासिस्ट संतोष ने लड़की को धक्का देकर कमरे में धकेल दिया। और डॉक्टर कमरे में आ गया। और वहां डॉक्टर ने जबरदस्ती उसके साथ कुकर्म किया। और इतना ही नहीं उसको ढाई घंटे तक उसको उसी कमरे के अंदर बंध कर रखा।

ये भी पढ़ें :-  हत्याचार: जब दलित महिला ने मजदूरी करने से मना किया तो काटी गयी उसकी नाक

लेकिन जब उसको वहां से छोड़ा गया तो उससे ये कहा गया कि अगर उसने इसके बारे में किसी को बताया तो उसको जान से मार दें गे। मगर उसने अपने घर पहुंचते ही ये सारी बात अपने परिजनों को बता दी। जिसको सुनते ही गुस्साए परिजन हॉस्पिटल पहुंचे, डॉक्टर और फार्मासिस्ट को घेरने की कोशिश की। मगर डॉक्टर और फार्मासिस्ट मौका पाते ही वहां भाग निकले। जिसके बाद लड़की के घर वाले लड़की को लेकर सीधे थाने पहुंचे जहां उन्होंने डॉक्टर और फार्मासिस्ट के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया। जहाँ पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके आरोपी डॉक्टर और फार्मासिस्ट को ढूंढ़ना शुरू कर दिया है। और साथ ही पीड़िता को मेडिकल टेस्ट के लिए हॉस्पिटल भेज दिया गया है।

ये भी पढ़ें :-  वर्ष 2018 में अयोध्या में आयोध्या राममंदिर का निर्माण प्रारम्भ हो जाएगा: साक्षी महाराज
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>