जिलाध्यक्ष के बेटे व ड्राइवर ने मुझे नंगा कर घुमाने की धमकी दी, सपा की महिला कार्यकर्ता

Jul 18, 2016

गोरखपुर। शनिवार को समाजवादी पार्टी के कार्यालय में उस वक्त बवाल हो गया जब एक महिला कार्यकर्ता ने पार्टी जिलाध्यक्ष पर गलत काम करने के लिए दबाव बनाने का आरोप लगा दिया। यही नहीं महिला ने छेड़खानी व जिलाध्यक्ष के बेटे पर गंदी गालियां देने का भी आरोप लगाया।

इस महिला कार्यकर्ता ने आरोप लगाया है कि जिलाध्यक्ष मुझे गलत तरीके से इस्तेमाल करना चाहती हैं। वह मेरी तस्वीर इधर-उधर लोगों को दिखाती हैं और पूछती है कि यह कैसी है। मेरे पीछे उसने दो लड़के लगा रखे हैं। पीड़िता ने जिलाध्यक्ष पर आरोप लगाया है कि दूसरी महिला कार्यकर्ताओं का भी वह गलत इस्तेमाल करती हैं।

ये भी पढ़ें :-  महिलाओं के अंडरगारमेंट इशारा कर रहे कि मुरथल में रेप हुआ

सपा की इस महिला कार्यकर्ता का कहना है कि जिलाध्यक्ष बिंदा देवी के बेटे व ड्राइवर मुझे भद्दी-भद्दी गालियां देते हैं और इन दोनों ने मुझे नंगा कर घुमाने की धमकी दी है।

सपा कार्यालय में इस दौरान रश्मि यादव (परिवर्तित नाम) जिलाध्यक्ष पर इन आरोपों को लगाते हुए फूट-फूट कर रोने लगी। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक जिस वक्त यह घटना हुई, उस वक्त सपा के कार्यालय में जिला प्रभारी एमएलसी विजय यादव व एमएलसी फहेजूल रहमान गोरखपुर जिले के नौ विधानसभा के प्रत्याशियों, पूर्व प्रत्याशियों व वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे।

महिला ने बताया कि जमीन के एक मामले में जिला अध्यक्ष बिंदा देवी व उनके बेटे पैसे की मांग कर रहे हैं पर मेरे पास पैसे नहीं हैं। सुमन यादव ने बताया कि उसने सारे सुबूत रिकार्ड कर रखे हैं।

ये भी पढ़ें :-  चीन की धमकी-लड़ाई हुई तो 48 घंटे में दिल्ली पहुँच जाएँगे चीनी सैनिक

वहीं अपने ऊपर लगे आरोपों से साफ़ इंकार करते हुए महिला जिला अध्यक्ष बिंदा देवी ने कहा कि कार्यालय प्रभारी और कुछ नेता मिलकर मुझे बदनाम करना चाहते हैं। मेरे बढ़ते हुए कद से घबरा गए हैं। अगर मेरे ऊपर आरोप सिद्ध हो जाते हैं, तो मैं पार्टी से इस्तीफा दे दूंगी।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected