हिंदू युवा वाहिनी के नेता का विवादित बयान, कहा- मुस्लिम महिलाएं जानवरों की तरह बच्चे पैदा करती हैं

Nov 02, 2017
हिंदू युवा वाहिनी के नेता का विवादित बयान, कहा- मुस्लिम महिलाएं जानवरों की तरह बच्चे पैदा करती हैं

हिन्दू युवा वाहिनी के प्रदेश महामंत्री नागेन्द्र प्रताप सिंह तोमर ने यहां मुसलमानों के लिए जहर उगला है। उन्होंने मंच से मुस्लिम महिलाओं को बच्चा बनाने की मशीन बताया है। इस विवादित बयान की शिकायत एआईएमआईएम के प्रदेश प्रवक्ता शादाब चौहान ने निर्वाचन आयोग से की है।

बता दें कि हिंदू युवा वाहिनी के सर्वेसर्वा खुद सीएम योगी आदित्यनाथ हैं। जिसको उन्होंने अप्रैल 2002 में इसे शुरू किया था। सीएम एक तरफ हिन्दू और मुस्लिम के बीच बढ़ रही खाई को पाटने में लगे हैं, वहीं योगी के संगठन के लोग ही दोनों समुदायों के बीच कटुता फैला रहे है। यहाँ पर हिन्दू युवा वाहिनी के प्रदेश मंत्री नागेंद्र प्रताप तोमर मेरठ के परीक्षित गढ़ में आयोजित हिन्दू युवा वाहिनी का कार्यकर्ता सम्मलेन को संबोधित कर रहे थे। जहाँ उन्होंने भाषण शुरू करते ही मुस्लिमों के प्रति जहर उगलना शुरू कर दिया।

ये भी पढ़ें :-  चलती ट्रेन में अश्लील हरकत करने लगे बदमाश, रेप से बचने के लिए मां-बेटी ने लगा दी छलांग

उन्होंने कहा कि “जुमे की नमाज में तकरीर होती है जिसमे इबादत के साथ साथ निर्देश दिए जाते हैं। वो कहते हैं हमने लड़ कर पाकिस्तान लिया है अब हंस कर हिंदुस्तान ले लेंगे।” आगे उन्होंने कहा कि “बस काम करना पड़ेगा केवल एक ही काम करो दिन रात जनसंख्या बढ़ाओ रात दिन बच्चे बनाओ। ये मंदिर गुरद्वारे बड़े बड़े भवन इमारतें सब तुम्हारी है, इनका इस्तेमाल तुम्हारे बच्चे करेंगे। एक एक परिवार में 12 -12 बच्चे पैदा हो रहे हैं। जैसा हमारे जानवरों के यहां पैदा होते हैं।”

उन्होंने अपने बयान को यहीं पर नहीं रोका बल्कि आगे वो कहते हैं कि “एक तरफ मुस्लिम जनसंख्या बढ़ा रहे हैं दूसरी ओर घुसपैठियो को निमंत्रण दे रहे हैं। रोहिंग्या की पैरवी इसलिए नहीं कर रहे है कि वो इस्लाम के मानने वाले हैं बल्कि इसलिए कि सारा भारत को दारुल इस्लाम बनाना चाहते हैं।” उनके इस तरह के विवादित बयान के बाद उनकी शिकायत एआईएमआईएम के प्रदेश प्रवक्ता शादाब चौहान ने निर्वाचन आयोग से की है।

ये भी पढ़ें :-  विडियो: भाजपा नेता ने की गुंडागर्दी, दलितों से गंदे तालाब में लगवाई डुबकी

शादाब चौहान ने निर्वाचन आयोग को भेजे गए अपने पत्र में लिखा है कि “नागेन्द्र ने 29 अक्टूबर को अनाज मंडी में एक कार्यक्रम के दौरान धार्मिक नफरत बढ़ाने वाला भाषण दिया है। भाषण में कहा गया कि मुस्लिम महिलाएं जानवरों के समान बच्चे पैदा करती हैं।” इस पत्र के जरिये इस मामले में कार्रवाई की मांग की गई है। शिकायती पत्र की प्रतिलिपि मेरठ एसएसपी को भी भेजी गई है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>