सीमा पर तनाव के बावजूद भारत में पाकिस्तानी निर्यात बढ़ा: रिपोर्ट में खुलासा

Apr 14, 2017
सीमा पर तनाव के बावजूद भारत में पाकिस्तानी निर्यात बढ़ा: रिपोर्ट में खुलासा

पाकिस्तान और भारत की सीमा पर बढ़ते तनाव के बावजूद वर्तमान वित्त वर्ष की शुरुआत से ही दोनों देशों के बीच व्यापारिक गतिविधियां जारी हैं। डॉन ऑनलाइन की रपट के मुताबिक, स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (एसबीपी) की एक रपट से खुलासा हुआ है कि 2016-17 के पहले आठ महीनों में पाकिस्तान के भारत में निर्यात में वृद्धि हुई थी, जबकि आयात 23 प्रतिशत घट गया।

हालांकि व्यापारिक संतुलन भारत के पक्ष में बना रहा।

व्यापार विश्लेषकों के अनुसार, दोनों देशों के बीच बिगड़ते राजनीतिक रिश्तों के बावजूद उनके द्विपक्षीय व्यापारिक रिश्तों पर इसका असर कम ही पड़ा।

एसबीपी की रपट के मुताबिक, जुलाई से फरवरी के बीच पाकिस्तान से भारत में निर्यात 14 प्रतिशत बढ़ा है। पाकिस्तान ने भारत में 28.6 करोड़ डॉलर का निर्यात किया। लेकिन एक साल पहले के मुकाबले भारत से आयात में 23 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई।

भारत को पाकिस्तानी निर्यात में वृद्धि का एक कारण भारत में सीमेंट की ऊंची मांग रही है।

डॉन ऑनलाइन के मुताबिक, इससे पाकिस्तान के अफगानिस्तान और दक्षिण अफ्रीका में सीमेंट निर्यात में गिरावट के नकारात्मक प्रभाव की भरपाई हुई।

एसबीपी की रपट के मुताबिक, “भारत में पाकिस्तानी सीमेंट की मांग में मजबूती के कारण दोनों अन्य प्रमुख बाजारों में इसकी मांग में गिरावट के नकारात्मक प्रभाव की कुछ हद तक भरपाई हो गई।”

इसी बीच वर्तमान वित्त वर्ष के पहले आठ महीनों में पाकिस्तान ने भारत के साथ 67.2 करोड़ डॉलर का व्यापारिक घाटा दर्ज किया।

पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में यह घाटा 99.3 करोड़ डॉलर था।

वर्ष 2015-16 में भारत से आयात पाकिस्तान से निर्यात की तुलना में चार गुणा से अधिक था।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>