सभी वर्गो के लिए काम करेगी उप्र सरकार : योगी आदित्यनाथ

Mar 20, 2017
सभी वर्गो के लिए काम करेगी उप्र सरकार : योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शपथ लेने के बाद रविवार को भाजपा का-सबका साथ सबका विकास-का नारा दोहराया और कहा कि प्रदेश सरकार सभी वर्गो के लिए समान रूप से कार्य करेगी।

महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए हरसंभव प्रयास होगा। किसानों के विकास के लिए योजनाएं लाई जाएंगी। योगी ने कहा कि हमने जनता से जो वादा किया है, उसे हम पूरा करेंगे। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनकी सरकार लोक कल्याण संकल्प पत्र में किए गए सभी वादों को पूरा करेगी।

आदित्यनाथ ने लोक भवन में संवाददाता सम्मेलन में कहा, “पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जन्मभूमि और कर्मभूमि को नमन। हमारी सरकार दीनदयाल उपाध्याय के सपने को साकार करने के प्रति संकल्पित है। उन्होंने कहा कि उप्र विकास की दौड़ में पिछड़ गया है। हम खेती को प्रदेश के विकास का आधार बनाएंगे। पूर्वाचल और बुंदेलखंड के पिछड़ेपन को लेकर पूछे गए सवाल पर योगी ने कहा कि हमने चुनाव से पूर्व पूर्वाचल और बुंदेलखंड विकास बोर्ड बनाने की बात कही थी, जिसको अमल में लाया जाएगा।”

मुख्यमंत्री पद संभालने के बाद योगी आदित्यनाथ ने पहले संवाददाता सम्मेलन में राज्य में सबका साथ, सबका विकास के अजेंडे के साथ काम करने का वादा दोहराया। योगी ने सभी मंत्रियों को 15 दिन के अंदर संपत्ति का ब्योरा देने का निर्देश दिया है। इसके अलावा उन्होंने कैबिनेट मंत्रियों को अनाप-शनाप बयान से बचने की नसीहत भी दी है।

मुख्यमंत्री ने पूर्व की सरकारों पर राज्य को विकास की दौड़ में पिछड़ने के लिए जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि राज्य के विकास के लिए उनकी सरकार तुंरत सकारात्मक कदम उठाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में युवाओं को रोजगार देने के लिए बड़े कदम उठाए जाएंगे और गरीब तथा किसान उनकी प्राथमिकता सूची में सबसे ऊपर हैं।

आदित्यनाथ ने भाजपा के शपथग्रहण समारोह को ऐतिहासिक दिन बताते हुए कहा, “भाजपा सरकार लोक कल्याण संकल्प पत्र 2017 में किए गए सभी वादों को पूरा करेगी। मैं राज्य की जनता को यह आश्वस्त करता हूं राज्य सरकार उप्र को विकास और खुशहाली के रास्ते पर तेजी से आगे बढ़ाने के लिए सभी प्रभावी कदम उठाएगी।”

राज्य की पूर्ववर्ती सरकारों पर भ्रष्टाचार और परिवारवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, “राज्य में बिना भेदभाव के विकास किया जाएगा। उप्र बदहाल कानून-व्यवस्था को जल्द ही ठीक किया जाएगा। महिलाओं की सुरक्षा सशक्तीकरण और सम्मान के लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं रखेगी।” मुख्यमंत्री ने साथ ही कहा कि नए विधायकों को ट्रेनिंग भी जाएगी।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार उप्र के पिछड़े और गरीब तबकों के लिए विशेष काम करेगी। उन्होंने कहा, “राज्य सरकार कृषि को बढ़ावा देने के लिए प्रयास करेगी। कृषि, किसान और खेतिहर मजदूर इस सरकार की प्राथमिकता सूची में है। शिक्षा को बढ़ावा देने से लेकर भोजन, आवास, स्वास्थ्य तथा परिवहन हर तरह की सुविधाओं के लिए सरकार काम करेगी।”

आदित्यनाथ ने कहा, “राज्य की कानून-व्यवस्था को पूरी तरह चाक-चौबंद किया जाएगा। इसके लिए शासन-प्रशासन को जिम्मेदार बनाया जाएगा। सरकारी नौकरी में नियुक्ति को भ्रष्टाचारमुक्त किया जाएगा। राज्य में उद्योग को बढ़ावा देने के लिए हर प्रयास किया जाएगा।”

मुख्यमंत्री ने साथ ही बताया कि सिद्धार्थनाथ सिंह और श्रीकांत शर्मा राज्य सरकार के प्रवक्ता होंगे। मुख्यमंत्री के साथ उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और डा. दिनेश शर्मा भी मौजूद रहे।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>