मज़हब बचाने के लिए मुसलमान पहले भी सड़क पर उतर चुके हैं, और फिर उतरेंगे: फिरंगी महली

Oct 16, 2016
मज़हब बचाने के लिए मुसलमान पहले भी सड़क पर उतर चुके हैं, और फिर उतरेंगे: फिरंगी महली

एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए फिरंगी ने तीन तलाक के मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू के बयान पर कहा “पीएम् मोदी का नाम बिलकुल नहीं लिया जाएगा अगर वो मना कर दें कि नरेंद्र मोदी मुसलमानों के प्रधानमंत्री नहीं हैं।” ये बात उन्होंने तब कही जब नायडू ने कहा था की ‘इस मामले में पीएम मोदी का नाम न लें’ गौरतलब है कि ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि मोदी सरकार जानबूझ कर अपने एजेंडे को आगे बढ़ाते हुए देश में यूनीफॉर्म सिविल कोड लागू करने की कोशिश कर रही है। तीन तलाक पर उन्हें सरकारी रवैया बिलकुल स्वीकार नहीं है इसलिए वे इसका विरोध करेंगे।

उन्होंने कहा कि निकाह भी तो तीन बार कुबूल बोलने पर हो जाता है। अब क्या आप इस पर भी सवाल उठाएंगे। हमारा देश दुनिया के विकसित देशों की लिस्ट में 97वें नंबर पर आता है। देश के बच्चे कुपोषण से मर रहे हैं। 15 फीसदी आबादी भूखी सो रही है। इस तरफ तो कोई ध्यान नहीं दे रहा है। यह क्यों नहीं देख रही है सरकार, फिरंगी महली ने कहा कि यह पूरा मामला ही गलत उठाया गया है। शबनम बानो को उसका शौहर परेशान करता था। शारीरिक और मानसिक रूप से उसका उत्पीड़न करता था, तो ऐसे हालात में उसके शौहर को कानूनी दफाएं लगाकर जेल में भेजना चाहिए। यहां तलाक की तो बात ही नहीं आती है।

यह तो देश में मुमकिन ही नहीं है। बात सिर्फ मुसलमानों की ही नहीं, सिख और ईसाइयों की भी है। क्या अपने पति के लिए करवाचौथ का व्रत रखने वाली पत्नी का पति भी करवाचौथ का व्रत रखेगा। फिरंगी महली ने कहा कि मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में है। हमारे संगठन ने कोर्ट में मजबूती के साथ अपना पक्ष रखा है। अगर इसके बाद भी इसे लागू करने की कोशिश की जाती है तो हम कानून के दायरे में रहकर हर जायज विरोध करेंगे। देशभर का मुसलमान सड़कों पर उतरकर विरोध-प्रदर्शन करेगा। हम पहले भी सड़क पर उतरे थे और एक बार फिर से सड़क पर उतरेंगे।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>