टैगोर गार्डन में खुला दिल्ली का सातवां डिकेथलॉन स्टोर

Apr 17, 2017
टैगोर गार्डन में खुला दिल्ली का सातवां डिकेथलॉन स्टोर

दुनिया के सबसे बड़े स्पोर्ट्स रिटेलर-डिकेथलॉन ने दिल्ली के टैगोर गार्डन के पेसिफिक मॉल में अपना नया स्टोर खोला है। यह दिल्ली-एनसीआर में डिकेथलॉन का यह सातवां स्टोर है। टैगोर गार्डन के अलावा डिकेथलॉन स्टोर नोएडा, रोहिणी, इंदिरापुरम, सोहना रोड, हुडा सिटी सेंटर और खेल गांव में स्थित हैं। टैगोर गार्डन में स्थित स्टोर की खासियत यह है कि यह मेट्रो सेवा से जुड़ा हुआ है और सुभाष नगर तथा टैगोर गार्डन मेट्रो स्टेशनों के काफी करीब है।

डिकेथलॉन के डिपार्टमेंट मैनेजर अभिषेक चौधरी के मुताबिक डिकेथलॉन की आउटलेट में 100 से अधिक खेलों से जुड़ी सुविधाएं उपलब्ध होंगी। बकौल अभिषेक, “हम अपने स्टोर के माध्यम से लोगों को खेलों से जुड़ी सभी सुविधाएं एक छत के नीचे मुहैया कराते रहे हैं। टैगोर गार्डन स्टोर इसी क्रम में एक कड़ी है और डिकेथलॉन अपने अन्य स्टोर्स की तरह इसे भी पूरी निष्ठा के साथ संचालित करेगा।”

डिकेथलॉन का मकसद खेल प्रेमियों और उत्साही लोगों को खेलों से जोड़े रखना है और उन्हें से जुड़े हर दर के टिकाऊ उपकरण मुहैया कराना है। 1 976 में फ्रांस में डिकेथलॉन को माइकल लेक्लर्क ने शुरू किया था। आज यह जर्मनी, स्पेन, इटली, पुर्तगाल, युनाइटेड किंगडम, चीन, भारत, मलेशिया और दक्षिण पूर्व एशिया में विस्तार कर चुका है।

डिकेथलॉन के आज 22 देशों में 850 से अधिक स्टोर हैं। रिटेल में टेनिस रैकेट से लेकर स्कूबा डाइविंग उपकरण तक उपलब्ध है। आमतौर पर डिकेथलॉन के बड़े सुपरस्टोर्स में 4,000 मीटर के औसत आकार में आते हैं। 80 देशों से 60,000 से अधिक डिकेथलॉन कर्मचारी है। डिकेथलॉन अपने ब्रांडों को बनाता है और बेचता है। प्रत्येक स्पोर्ट्स ग्रुप में एक अलग ब्रांड नाम मौजूद है। खुदरा क्षेत्र में पैर जमाने के बाद और अलग प्रकार की टारगेट ऑडियंस के कारण उनके क्षेत्र में कोई प्रतिद्वंद्वी नहीं है।

डिकेथलॉन के सारे प्रोडक्ट ऑनलाइन उपलब्ध हैं, लेकिन आप स्टोर पर जाकर अन्य खेलों के प्रेमियों के साथ मिलकर और लाइव गेमिंग के माहौल का मजा ले सकते है। डिकेथलॉन अलग-अलग उत्पादों को एक छत के नीचे उपलब्ध कराता है। स्टोर में बच्चों से लेकर वयस्कों के उत्पाद उपलब्ध हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>