दिल्ली सेशन कोर्ट का फैसला:‘जीजा-साली से हमबिस्तर को बलात्कार नही कहा जा सकता ’

Apr 15, 2016

दिल्ली : दिल्ली की सेशन अदालत ने एक स्थानीय व्यापारी को बलात्कार के संगीन आरोप से ये कहकर बरी कर दिया कि ‘अपनी साली के साथ अक्सर सेक्स करने को बलात्कार नही कहा जा सकता ’.

दिल्ली के अडिशनल सेशन जज संजीव जैन ने अहम फासिला देते हुए कहा कि आरोपी व्यापारी के खिलाफ बलात्कार का मुकदमा उसकी साली ने तब दर्ज कराया जब दोनों के अन्तरंग रिश्तों की कलई खुल गयी थी. जांच में ये पाया गया की व्यापारी और उसकी साली जॉइंट वेंचर में बिजनेस करते थे और धीरे धीरे उनमे शारीरिक सम्बन्ध स्थापित हो गये. दोनों एक दूसरे के करीब आये और अक्सर सेक्स करने लगे.

कोर्ट का कहना है कि दोनों शादीशुदा थे और बालिग़ थे. समझदार होते हुए भी दोनों ने अन्तरंग रिश्ते बना लिए. तीन साल तक दोनों के बीच सेक्स होता रहा. ये सेक्स मर्ज़ी से हुआ था. कोर्ट के मुताबिक जब साली जीजा के नाजायज रिश्ते घर में पता लगे तो साली ने लोकलाज से बचने के लिए अपने जीजा पर बलात्कार का मुकदमा दर्ज करा दिया. अदालत की नज़र में ये रिश्ता सहमति के साथ बना था और इसे बलात्कार नही कहा जा सकता है.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>