दीपा ने रचा इतिहास, देश की जिमनास्ट ओलिंपिक के फाइनल में

Aug 08, 2016

रियो डि जिनेरियो: पहली बार आेलंपिक खेलों में भाग ले रही जिम्नास्ट दीपा करमाकर ने व्यक्तिगत वॉल्ट फाइनल में जगह बनाकर भारतीय खेलों में नया इतिहास रचा। यहां आठवें स्थान पर रहकर फाइनल के लिए क्वालीफाई करने वाली दीपा यह कारनामा करने वाली पहली भारतीय हैं। आेलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली महिला जिम्नास्ट त्रिपुरा की दीपा ने ‘प्रोडुनोवा’ वॉल्ट में अच्छा प्रदर्शन किया और दो प्रयासों के बाद 14.850 अंक हासिल किये।

इसके बाद भारतीय खिलाड़ी को इंतजार करना पड़ा। वह पांच सब डिवीजन में से तीसरे में छठे स्थान पर रही थी। वह आखिर में आेवरआल आठवें स्थान पर खिसक गई। कनाडा की शैलोन आेलसन ने बेहतरीन प्रदर्शन करने हुए 14.950 अंक बनाकर आेवरआल तालिका में अंतर पैदा कर दिया। लेकिन यह दीपा के लिए फाइनल में जगह बनाने के लिए पर्याप्त था। फाइनल 14 अगस्त को होगा जिसमें शीर्ष आठ जिम्नास्ट पदक के लिए अपनी दावेदारी पेश करेंगी।

दीपा ने बाद में कहा, ‘मैं खुश हूं लेकिन इससे थोड़ा बेहतर प्रदर्शन करना चाहती थी। अभ्यास के दौरान मैंने इससे कहीं बेहतर प्रदर्शन किया था।’ दीपा ने अपने पहले प्रयास में ‘डिफक्लटी’ में 7.000 और ‘एक्सक्यूशन’ में 8.1 अंक बिनाए। दूसरे प्रयास में वह डिफक्लटी में 6.000 का ही स्कोर बना पाई।

उन्होंने प्रोडुनोवा वाल्ट में पहले प्रयास में सामान्य प्रदर्शन किया लेकिन दूसरे प्रयास में वह प्रभाव छोडऩे में सफल रही।  इस स्पर्धा से पहले दीपा को तीन बार की विश्व आलराउंड चैंपियन अमरीकी जिम्नास्ट सिमोन बिलेस ने शुभकामनाएं दी। विश्व चैंपियनशिप में रिकार्ड दस स्वर्ण पदक जीतने वाली 19 वर्षीय अमरीकी स्टार त्रिपुरा की खिलाड़ी के पास आई और उन्हें शुभकामनाएं दी।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>