बस्तर में बेटियों की भ्रूण हत्या नहीं होती है: कमलचंद्र भंजदेव

May 04, 2017
बस्तर में बेटियों की भ्रूण हत्या नहीं होती है: कमलचंद्र भंजदेव

बस्तर के महाराजा तथा राज्य युवा आयोग के अध्यक्ष कमलचंद्र भंजदेव ने कहा कि बस्तर में बेटियों की भ्रूण हत्या नहीं होती है। 

बुधवार को विजन न्यूज सर्विस के कार्यालय आए बस्तर के महाराजा तथा राज्य युवा आयोग के अध्यक्ष कमलचंद्र भंजदेव ने पत्रकारों से यह बात कहीं। वे राजधानी के कुछ चुनिंदा पत्रकारों से मुखातिब थे।

उन्होंने बताया कि बस्तर के ऐतिहासिक दशहरे के आगाज का आदेश देने वाली काछन देवी की आत्मा भी एक आदिवासी कन्या के शरीर पर आती है, और राज परिवार उनसे दशहरे के उत्सव को शुरू करने का आदेश मांगता है। बस्तर की विशेषता यह भी है कि वहां के आदिवासियों ने पारंपरिक संस्कारों को आज भी अपने समाज में जिंदा रखा है।

महाराजा भंजदेव ने बताया कि यहां आज भी मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत का सपना आदिवासियों के गांवों में जिंदा है। आदिवासी समाज में आदिकाल से ही बेटियों को समानता का अधिकार प्राप्त है। तो वहीं दूसरी ओर वहां लैंगिक भेदभाव देखने को नहीं मिलता।

यहां मड़ई और घोटुल के दौरान युवक और युवतियां पूरी-पूरी रात एक साथ नाचते हैं। बस्तर दशहरे के दौरान दो सौ से चार सौ लोग एक साथ रात में एक ही विछायत पर सोते हैं। तो यहां के गांवों में लोग आज भी अपने घरों को स्वच्छ रखने के लिए गोबर से लीपते हैं। आदिवासियों के गांवों में पूरी तौर पर स्वच्छता का ध्यान रखा जाता है।

युवा आयोग की बात करते हुए महाराजा भंजदेव ने कहा कि युवाओं में बड़ी ताकत है। हम इसी ताकत को संचित करने में जुटे हैं। मुझे विश्वास है कि अगर ये ताकत इकट्ठी हो गई तो कोई भी काम न तो असंभव है और न ही मुश्किल। हमारी कोशिश है कि सरगुजा से लेकर बस्तर तक का सर्वेक्षण कर एक छत्तीसगढ़ के खेलों को बाहर निकाला जाए, जिसका नाम भले बदला हो मगर वो पूरे छत्तीसगढ़ में खेला जाता हो। उस खेल को फिर राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाई जाए।

बस्तर की माटी में कला रचती-बसती है। बस्तरिया कलाकार आज भी काष्ठ और बेलमेटल से लेकर बांस तक के कलात्मक सामानों को बनाने में पारंगत हैं। ये कला उनके खून में रची-बसी है। इसका सबसे अहम कारण ये है कि ये कला उनको विरासत में उनके पुरखों से मिली है। इस कला को लगातार बढ़ावा भी दिया जा रहा है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>