बेटियां घर से बाहर शौच को न जाएं, गरीब महिला ने मंगलसूत्र बेच बनवाया शौचालय

Oct 05, 2016
बेटियां घर से बाहर शौच को न जाएं, गरीब महिला ने मंगलसूत्र बेच बनवाया शौचालय
बेहद गरीब और अशिक्षित महिला ने जब शौचालय की अहमियता जानी तो पति से बनवाने की जिद की। कहा घर में तीन बेटियां बाहर शौच के लिए जाती हैं तो सिर शर्म से झुक जाता है। कहीं कोई अनहोनी होने की डर से मैं कांप जाती हूं। इस पर पति ने कहा शौचालय के लिए पैसे नहीं है। महिला ब्लॉक पर गई तो अफसरों ने भगा दिया। मगर इस महिला ने हार नहीं मानी और कहीं से पैसे की व्यवस्था न होने पर अपने सुहाग की निशानी ही बेच डाली। यह महिला हैं कानपुर की लता देवी।
संस्था ने दिया गोल्ड मेडल
पीएम नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान ने इस महिला पर इस कदर छाप छोड़ा कि शौचालय बनाने की जिद पकड़ ली। जब कहीं से पैसे की व्यवस्था नहीं हुई तो अपना मंगलसूत्र ही बेच दिया, जिसे किसी महिला की सुहाग की निशानी कहा जाता है। कानपुर के बिधनू ब्लॉक की गरीब महिला लता के इस जज्बे के बारे में संस्था को पता चला तो पीएम मोदी के जन्मदिन पर इस महिला को एक गोल्ड मेडल के साथ दो लाख रुपये का चेक देकर सम्मानित किया गया।
तीन बेटियों की चिंता में बनवाया शौचालय
लता के मायके वाले भी काफी गरीब हैं। जिससे लता पढ़ लिख नहीं पाई। बाद में शादी हो गई। पति बाबूराम मजदूरी कर किसी तरह परिवार का पेट पालते हैं। लता का कहना है कि वह जब छोटी थी तभी शौच के लिए घर से दूर जाना पड़ता था। जिससे उसका एक सपना था कि वह अपने घर में शौचालय जरूर बनवाएगी। जब ससुराल में तीन बेटियां हुईं और वे बड़ी होकर घर से बाहर शौच के लिए जातीं थीं तो हमेशा सुरक्षा की चिंता सताती थी। जब पति से कई बार कहीं तो उन्होंने पैसा न होने की बात कही। ब्लाक पर गई तो वहां भी किसी योजना का लाभ नहीं मिल सका। जिससे थकहारकर हमने मंगलसूत्र और भैंस के एक बच्चे को बेचकर पैसे का इंतजाम किया और इसी साल 25 मई को शौचालय बनवा दिया। लोगों से सराहना मिली तो मुझे बहुत खुशी मिल रही है।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>