पुलिस हिरासत में दलित की ह्त्या के बाद पूरी पुलिस चौकी बर्ख़ास्त

Aug 05, 2016

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक नौजवान कमल वाल्मीकि नाम के एक नौजवान शख्स की पुलिस हिरासत में मौत हो गयी है. कमल वाल्मीकि 25 साल के थे और दलित समुदाय से ताल्लुक़ रखते थे और दो रोज़ पहले उन्हें चोरी के इलज़ाम में पूछताछ के लिए लाया गया था लेकिन दो दिन के बाद उनके परिवार को ये ख़बर दी गयी कि वाल्मीकि की मौत हो गयी है.इस बात का संज्ञान लेते हुए तुरंत ही सरकार ने चौकी प्रभारी समेत सभी 14 लोगों को बर्ख़ास्त कर दिया है और एक पुलिस वाले पे हत्या का मुक़दमा दर्ज किया गया है. इससे पहले जब पुलिस चौकी में मौजूद पुलिस वालों ने वाल्मीकि के घरवालों को बताया कि वाल्मीकि की मौत हो गयी और उसकी लाश पुलिस चौकी में लटकती हुई पायी गयी है, इसके बाद घर वालों का ग़ुस्सा पुलिस वालों पे फूट गया और उन्होंने पुलिस चौकी के बाहर प्रदर्शन किये जिसमें उनकी पुलिस वालों से झड़प भी हो गयी. उत्तर प्रदेश के DGP जावेद अहमद ने इस बारे में कहा कि ये बहुत गंभीर मसला है और वो पोस्ट मोरटम रिपोर्ट का इन्तिज़ार कर रहे हैं.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>