पापा जाएंगे जेल अगर बच्चा चलाएगा गाड़ी

Aug 04, 2016
नई दिल्ली। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने पूरे देश में ड्राइविंग लाइसेंस फीस एक समान करने का निर्णय लिया है। इस निर्णय से प्रदेश में लर्निंग व स्थाई ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना पांच गुना तक महंगा हो जाएगा। राज्य परिवहन विभाग ने नोटिफिकेशन जारी कर 30 अगस्त तक इस पर दावे-आपत्तियां मांगी हैं।
सड़क हादसों को लेकर केंद्रीय परिवहन एक्ट में कई तरह के बदलाव किए जा रहे हैं। ड्राइविंग लाइसेंस देने से पहले कई शर्तें लगाई जा रही हैं। ड्राइविंग लाइसेंस के दुरुपयोग का बड़ा कारण फीस कम होना माना गया है। ड्राइविंग लाइसेंस फीस महंगा करने के पीछे की मंशा है कि इससे पात्र लोग ही बनवाएंगे। ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने, वाहनों का रजिस्ट्रेशन, फिटनेस और नवीनीकरण करवाने के लिए अब पांच गुना फीस देना होगी।
सड़क परिवहन एवं राजमार्ग संचालय ने नाबालिगों द्वारा भारी वाहनों के चलाए जाने पर कड़े दंड के प्रावधान किए हैं। सभी आरटीओ को निर्देशित किया गया है कि वे 18 वर्ष से कम आयु वाले नाबालिगों द्वारा वाहन चलाते हुए पकडऩे पर उनके अभिभावकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएं। 16 वर्ष तक के बच्चों के लिए सिर्फ 50 सीसी से कम क्षमता वाले वाहन चलाने की अनुमति दी गई है।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>