बनाए किशमिश और शहद की वीर्यवर्धक औषधि..

Jun 13, 2017
बनाए किशमिश और शहद की वीर्यवर्धक औषधि..

आज के समय में पुरषो में अनेक प्रकार की कई समस्याएं तेज़ी से पैदा हो रही है जिसमें शीघ्रपतन, वीर्य की कमी, धातु दुर्बलता आदि परेशानियां शामिल है। लगातार पाद रही ऐसी परेशानियों से परेशान अपने बचाव के लिए हर संभव कोशिश कर रहा है। उसी को दिहन में रखते हुए आज हम आपको शीघ्रपतन, वीर्य की कमी, धातु दुर्बलता आदि जैसी परेशानियां से बचने के लिए आपके लिए एक देसी उपाए लेकर आये हैं। जिसके सेवन से आपकी यह सब समस्याएं जड़ से ख़त्म हो जाएगी। हम जो आपको बताने जा रहें हैं यह आयुर्वेद की शीघ्रपतन, स्वप्नदोष, धातु दुर्बलता आदि जैसी परेशानियां दूर करने वाली अभूतपूर्व रामबाण औषधि है।

ये भी पढ़ें :-  पुरूषों की गुप्त रोगों की समस्या की एक कारगर औषधि, जानिए

जानिए कैसे बनाये ये औषधि- पढ़िए विधि
एक स्वच्छ कांच का आधे लीटर का ढक्कन बंद डिब्बा या बोतल।
250 ग्राम शहद
125 ग्राम किशमिश

सबसे पहले आप शहद को कांच की बोतल में कर लीजिए। फिर उसमे किशमिश मिलाइए। ऐसे करने पर बोतल को बेहद अच्छी तरह बंद कर दीजिए ताकि उसमे हवा न जा सके। उसके बाद बोतल को दो से तीन दिन कमरे में या किसी अलमारी में रखिए जहां उसपर प्रकाश भी न पड़ सके। दो से तीन दिन बाद अब आपकी औषधि तैयार हो चुकी है। अब आपके लिए ये जानना ज़रूरी है कि आपके ये किस तरह लेनी है, जानिए जानते हैं।

ये भी पढ़ें :-  अवसादग्रस्त व्यक्ति के मस्तिष्क की संरचना में बदलाव का खतरा होता

इस तरह करें सेवन
रोजाना सुबह खाली पेट चार से पांच किशमिश और उसके साथ थोड़ा डूबी हुई किशमिश का शहद लेकर उसे चबाकर खाइए। याद रहे इसके सेवन के एक घंटे तक कुछ भी ना खाएं। इस औषधि का लगातार 40 दिन तक सेवन करने से शीघ्रपतन, स्वप्नदोष, वीर्य की कमी, धातु दुर्बलता, नपुंसकता आदि जैसी आपकी सभी परेशानिया पूरी तरह ख़त्म हो जाएगी।

ज़रूरी जानकारी
ये औषधि सिर्फ 40 दिनों के लिए है। यदि आप लगातार इसका सेवन करना है तो हर 40 दिन के बाद 15 दिन का गैप रखें।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>