“लाइव शो के दौरान मुस्लिम नेता से भिड़ा न्यूज़ एंकर दिया ‘मुसलमानों’ के खिलाफ विवादित बयान”

Jan 18, 2018
“लाइव शो के दौरान मुस्लिम नेता से भिड़ा न्यूज़ एंकर दिया ‘मुसलमानों’ के खिलाफ विवादित बयान”

इन दिनों हज सब्सिडी का मुद्दा बहुत जोरो शोरो पर चल रहा है, हर जगह इसी की चर्चा हो रही है, मोदी सरकार के द्वारा हज सब्सिडी को खत्म कर दिया गया है, कुछ लोग इस पर अपना गुस्सा जाहिर कर रहे है, तो कुछ लोग इसे सही ठहरा रहे है। और वहीँ बहुत से लोग इस मुद्दे को मुस्लिमों के लिए तुष्टिकरण का खेल चलाया जा रहा है कह रहे है।

बता दे कि टीवी चैनलों पर इस मुद्दे को लेकर काफी बहस छिड़ी हुई है, इसी तरह की बहस “हिंदी खबर” नाम के एक चैनल पर भी छिड़ी हुई थी, जिसमे शो को होस्ट करने वाले एंकर अतुल अग्रवाल ने विवादित बयान देते हुए, कहा कि मुस्लिमों से अल्पसंख्यक का दर्जा छीन लेना चाहिए।

ये भी पढ़ें :-  दो बहनों को घर के अंदर जलाकर की गई हत्या, 18 फरवरी को होने वाली है भाई की शादी

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हिंदी खबर नाम के चैनल पर “जो कहूंगा सच कहूंगा” नाम का शो चल रहा था, इसी शो में एंकर अतुल अग्रवाल और यूपी कांग्रेस नेता जीशान हैदर के बीच मुस्लिमों के अधिकारों को लेकर बहस छिड़ी हुई थी, इसी शो के दौरान एंकर ने कहा, ‘मैं एक और बोल्ड बयान देने जा रहा हूं, मुसलमानों से अल्पसंख्यक का दर्जा छीन लेना चाहिए क्योंकि वो अल्पसंख्यक हैं ही नहीं, हिन्दुओं के बाद देश में सबसे बड़ी आबादी मुसलमानों की है, वो अल्पसंख्यक कैसे हो सकते हैं।’ शो के एंकर अतुल अग्रवाल ने इसी दौरान आगे कहा कि देश में 30 फीसदी मुस्लिमों की आबादी है, इस हिसाब से 30 फीसदी वाली कौम अल्पसंख्यक कैसे हो सकती है।

ये भी पढ़ें :-  फिल्म 'पद्मावत' देखने गई लड़की के साथ दोस्त ने सिनेमा हॉल में किया रेप, फेसबुक पर हुई थी दोस्‍ती

हिंदी खबर चैनल के शो के एंकर अतुल अग्रवाल ने इस बारें में आगे बात करते हुए कहा कि दुनिया में किसी भी देश में किसी भी कौम की आबादी 25 से 30 फीसदी से ज्यादा हो जाय तो उस कौम को अल्पसंख्यक की केटेगरी से हटा देना चाहिए, आगे उन्होंने इसी बात को लेकर कहा कि, केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के अलावा अल्पसंख्यक आयोग भी इसको लेकर पहले भी चर्चा कर चुकी है, मगर कोई निर्णय नहीं लिया जा सका है, अब ये मामला अभी कोर्ट में है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>