रंग बदलती भाजपा, RSS कर रही दलितों से हमदर्दी का ढोंग

Aug 25, 2016
रंग बदलती भाजपा, RSS कर रही दलितों से हमदर्दी का ढोंग

बीजेपी के सत्ता में आने के बाद लगातार दलित सुमदाय और मुस्लिम समुदाय के साथ हो रहे बुरे बर्ताव और जुल्मों को लेकर बीजेपी लगातार चर्चा में बनी रही है जिसका विरोध ये समुदाय और विपक्षी दल भी अब खूब कर रहे हैं। अपनी इज्जत बचाने के लिए दलितों पर गौरक्षकों के बढ़ रहे आतंक को लेकर तो हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी भी दलित समुदाय का पक्ष लेकर घड़ियाली आंसू बहाते पाए गए चाहे ये सब उन्होंने लोगों को दिखाने के लिए एक ढोंग ही रचा हो। मोदी की राह अपनाते हुए आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत भी अपने आगरा प्रवास के आखिरी दिन एक दलित कार्यकर्ता के घर भोजन करने पहुंच गए। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ आगरा के केशव कुंज में रहने वाले जूता व्यवसायी राजेंद्र चौधरी के घर मोहन भागवत करीब 45 मिनट रहे और परिवार के लोगों के साथ भोजन किया और इस दौरान उनके साथ संघ के कई पदाधिकारी मौजूद थे।

ये भी पढ़ें :-  जाधव तक राजनयिक पहुंच से पाकिस्तान का फिर इनकार

गौरतलब है कि 2 दिन पहले आगरा में ही मोहन भागवत ने कहा था कि बीजेपी और आरएसएस अलग-अलग है और दोनों का आपस में कोई रिश्ता नहीं है। जबकि कार्यक्रम के दौरान उन्‍होंने केंद्र सरकार की तारीफ करते हुए ‘हमारी सरकार’, बीजेपी सरकार’ और ‘मोदी सरकार’ के खूब नारे लगाए। आप देख सकते हैं कि किस तरह बीजेपी और आरएसएस अपने रंग बदलने में माहिर है। जब इन्होंने भांपा कि दलितों के प्रति इनकी छवि बिगड़ने लगी तो कैसे ये दलितों के हित में होने का ढोंग रचने लग गए। गौरतलब है कि गुजरात के ऊना में दलितों की पिटाई जैसे मामलों के चलते बीजेपी पर दलित विरोधी होने के आरोप लगने लगे हैं।

ये भी पढ़ें :-  कब पूरा होगा गांधी का सपना?

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>