जांच के लिए संदिग्ध नौका को पोर्ट ब्लेयर लाए तटरक्षक

Jul 20, 2016

तटरक्षक बल के कर्मी एक संदिग्ध नौका को पकड़कर नारकोंडम द्वीप के निकट लाए और आगे की जांच के लिए उसे पुलिस के सुपुर्द कर दिया. नौका चालक दल के 11 सदस्य म्यामांर के नागरिक हैं.

इस नौका को मंगलवार को पोर्ट ब्लेयर लाया गया और इसके बाद तटरक्षक महानिरीक्षक कुलदीप सिंह शेवरान ने इसकी जांच की और तटरक्षक कर्मियों के प्रयासों और चौकसी की सराहना की.

बाद में पोर्ट ब्लेयर के सेंट्रल क्राइम स्टेशन से पुलिस का एक दल पहुंचा और नौका एवं चालक दल के सदस्यों को हिरासत में लिया ताकि सुरक्षा एजेंसियां आगे इन लोगों से पूछताछ कर सकें.

ये भी पढ़ें :-  मोदी ने देश पर नोटबंदी नाम का परमाणु बम गिराया है, जिससे देश की हालत ख़राब हो गई-शिवसेना

तटरक्षक बल की गश्ती नौकाओं ‘भीकाजी कामा’ और ‘राजकमल’ ने सोमवार-मंगलवार की रात अंडमान सागर में नारकोंडम द्वीप से करीब नौ समुद्री मील पूर्व में इस संदिग्ध नौका को रोका.

तटरक्षक की ओर से जारी बयान के अनुसार गश्ती पोतों की ओर से चुनौती दिए जाने के बाद यह संदिग्ध नौका भागने लगी और चालक दल के सदस्य कुछ सामान समुद्र में फेंकते हुए दिखाई दिए. गोलीबारी की चेतावनी दिए जाने के बाद यह नौका रूकी, हालांकि तटरक्षक बलों को पहले दो घंटे तक इसका पीछा करना पड़ा.

नौका की छानबीन के बाद तटरक्षक बल ने पाया कि इस पर किसी का नाम और पंजीकरण संख्या दर्ज नहीं है तथा इस पर किसी देश का झंडा भी नहीं है. इसमें 40-50 ड्रम ईंधन और पानी रखा हुआ मिला तथा पुरूष एवं महिलाओं के कपड़े भी रखे हुए थे जो इस तरह की नौका के लिए असामान्य बात है.

ये भी पढ़ें :-  हर साल भारत से बढ़ते हज यात्रियों को देखते हुए, PM मोदी ने लिया ये बड़ा फैसला..अब नहीं

नौका के इंजन कक्ष में वीएचएफ संचार उपकरण भी छिपाकर रखा गया था. चालक दल के किसी भी सदस्य के पास पासपोर्ट नहीं था.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join कर

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected