CM अखिलेश बोले अरे जनता को ग़ुमराह मत करिए, कैराना को कश्मीर बताने वालों तेरा मुंह काला:Video

Jun 16, 2016

लखनऊ, कैराना मामले में बढती सियासत के बीच कल मुख्मंत्री अखिलेश यादव ने संवाददाताओं से कहा कि कैराना को कश्मीर बताने वालो तेरा मुंह काला हो. दरसल मुख्यमंत्री अखिलेश ने ये बात तब कही जब एक निजी न्यूज चैनल के संवाददाता ने उनसे ये सवाल किया कि कैराना मामले में सरकार आखिर क्या कर रही हैं? और क्या राज्य के गृह सचिव को इस मामले में बयान नहीं जारी करना चाहिए? संवाददाता के इस सवाल पर 4 साल में पहली बार CM अखिलेश ने अपना आपा खो बैठे और उपरोक्त बयान दे डाला.

आपको बता दे कि पिछले दिनों मुजफ्फरनगर की कैराना सीट से बीजेपी के सांसद हुकुम सिंह ने ये आरोप लगाया था कि सांप्रदायिक ताकतों के चलते कैराना से लगभग 300 हिन्दू परिवारों ने पलायन कर दिया हैं. हालाँकि आरोप लगाने के दूसरे दिन ही वो अपने बयान से पलट गये थे और कहा था कि उनके पास खुद भी पलायन करने वालो की न तो सटीक लिस्ट हैं और ना पलायन करने की वजह की जानकारी. उन्होंने कहा था कि वो एक बार फिर से इस पूरे मामले की जांच करेंगे.

बीजेपी संसद हुकुम सिंह भले ही बयान देने के बाद अपने बयान से पलट गये हो पर उनके इस बयान ने राज्य की राजनीति में जबरदस्त भूचाल ला दिया हैं. एक तरफ जहाँ सरकार सहित सभी विरोधी दल इसे “घटिया राजनीती” करार दे रहे हैं तो वही बीजेपी उपरोक्त मामले को कश्मीर से जोड़ रही हैं. बीजेपी का कहना है कि कैराना की स्थिति बिलकुल कश्मीर जैसी हो गयी हैं. आज इसी मामले को लेकर बीजेपी का एक प्रतिनिधमंडल कैराना में मौजूद हैं

आपको बता दे कि पिछले दिनों अम्बेडकरनगर में एक कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश ने कहा था कि बीजेपी पलायन करने वाले हिन्दुओं की सही लिस्ट दें हम कार्यवाही करेंगे.

बीजेपी का आज का कैराना दौरा इस परिपेक्ष्य में देखा जा रहा हैं. माना जा रहा है कि बीजेपी आज मुख्यमंत्री दवारा मांगी गयी लिस्ट कैराना में तैयार करेगी. किन्तु यक्ष प्रशन तो यही कि क्या सरकार कार्यवाही करेगी ?
इसके अतिरिक्त एक प्रश्न यह भी खड़ा होगा कि बीजेपी की बनायीं लिस्ट की वास्तविकता का पैमाना क्या होगा ? क्योकि अतीत के पन्नो में बीजेपी की भी वही तस्वीर हैं जो आरोप कैराना मामले में बीजेपी सांसद ने अखिलेश सरकार पर लगायें हैं.
अतीत के पन्नो में बीजेपी ने भी ध्रुवीकरण की ही राजनीति की हैं ऐसी में उसके दवारा तैयार की गयी जांच रिपोर्ट या लिस्ट की सत्यता सवालों के घेरे में जरुर आएगी. बहरहाल कुछ भी हो पर इतना तय कि कैराना मामले की ये सियासत आने वाले दिनों में और गरमाएगी.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>