भ्रष्टाचार में लिप्त बादलों का समर्थन कर रहे मोदी : राहुल

Jan 29, 2017
भ्रष्टाचार में लिप्त बादलों का समर्थन कर रहे मोदी : राहुल

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और उनके परिवार पर सीधा हमला बोला। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार मिटाने के नाम पर नोटबंदी करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बादलों के भ्रष्ट शासनकाल का समर्थन कर रहे हैं। राहुल ने कहा कि उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल जो ‘भ्रष्टाचार का प्रतीक’ बन चुके हैं और वही शिरोमणि अकाली दल का अध्यक्ष भी हैं। उनका समर्थन कर भ्रष्टाचार मिटाने की बात करना बिल्कुल हास्यास्पद है।

कांग्रेस उम्मीदवार रणवीत सिंह बिट्ट के समर्थन में एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “सुखबीर बादल भ्रष्टाचार का प्रतीक बन चुके हैं। देश की किसी राज्य की तुलना में पंजाब में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार हो रहा है।”

लुधियाना से कांग्रेस सांसद बिट्ट जलालाबाद विधानसभा सीट से सुखबीर बादल के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। इस सीट के लिए चार फरवरी को मतदान होना है। इन दोनों का मुकाबला आम आदमी पार्टी (आप) के सांसद और हास्य कलाकार भगवंत मान से है।

भ्रष्टाचार से लड़ने के प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी के दावे पर सवाल खड़ा करते हुए राहुल ने कहा, “अगर मोदी भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहे हैं तो उन्हें बताना चाहिए कि वह सुखबीर का समर्थन क्यों कर रहे हैं?”

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, “सुखबीर बादल की पार्टी शिरोमणि अकाली दल का वर्ष 2007 से ही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ गठबंधन है। यह पार्टी सिख धर्म के संस्थापक गुरुनानक देव की विचारधाराओं से भटक गई है।”

कांग्रेस नेता ने कहा, “सुखबीर बादल दावा करते हैं कि वह सिख धर्म और गुरु नानक देव की विचारधाराओं की रक्षा कर रहे हैं, जबकि सुखबीर और अकाली दल कहते हैं कि पंजाब की हर चीज उनकी है।”

उन्होंने कहा कि बादल परिवार ने परिवहन, खनन और केबल टीवी जैसे समेत राज्य के समूचे व्यापार पर एकाधिकार जमा लिया है और शराब के कारोबारियों से कमीशन ले रहा है। यानी जनता का सारा पैसा एक परिवार में जा रहा है। पंजाब को इस परिवार ने अपनी जागीर समझ रखा है।

राहुल ने कहा, “बादल पिता-पुत्र ने पंजाब में सभी उद्योगों को चौपट कर दिया है। वे अन्य देशों और राज्यों के लोगों को यहां निवेश करने व उद्योग शुरू करने की इजाजत नहीं देते हैं। इसलिए कि यहां आकर कोई और न कमाई कर ले। उनकी इस सोच के कारण उद्योग अन्य राज्यों में चले गए हैं और पंजाब के युवा बेरोजगार हो गए हैं।”

उन्होंने कहा कि बादल सरकार युवाओं को नौकरी देने से इनकार कर रही है।

राहुल ने दोबारा कहा कि अगर पार्टी सत्ता में वापस आती है तो पंजाब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह ही मुख्यमंत्री होंगे। उन्होंने पिछली बार मुख्यमंत्री बनने के बाद दो साल में ही पंजाब का चेहरा बदल दिया था, जिसे भ्रष्ट और दमनकारी बादलों की सरकार की पूरी तरह बिगाड़ दिया।

उन्होंने कहा कि समाज के हर तबके की उन्नति कांग्रेस के शासन में होगी, क्योंकि सिर्फ यही पार्टी गरीबों की फिक्र करती है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने लोगों को सचेत करते हुए कहा कि वे अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी का समर्थन न करें।

उन्होंने कहा, “पंजाब को पंजाब से एक मुख्यमंत्री चाहिए। अरविंद केजरीवाल एक तानाशाह की तरह दिल्ली को चला रहे हैं।”

राहुल ने इससे पहले, शुक्रवार को अमृतसर जिले के मजीठा में आयोजित चुनावी रैली को संबोधित किया था। उन्होंने अकाली दल के गढ़ में बादलों पर सीधा प्रहार कर सबको चौंका दिया था। विधानसभा में मजीठा का प्रतिनिधित्व राजस्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया करते हैं। वह सुखबीर बादल के साले और केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर के भाई हैं।

पंजाब विधानसभा चुनाव में शिअद-भाजपा गठबंधन, कांग्रेस और आप के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है।

राज्य की सभी 117 विधानसभा सीटों के लिए 4 फरवरी को मतदान होगा। मतों की गणना और परिणामों की घोषणा होली से ठीक दो दिन पहले 11 मार्च को होगी।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>