हेलीकाप्टर घोटाले के मामले में हंगामा लोकसभा में कार्यवाही

Apr 28, 2016

संसद के दोनों सदन राज्यसभा और लोकसभा में अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकाप्टर घोटाले के मामले को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के आमने-सामने आने की उम्मीद जतायी जा रही है.

लोकसभा में कार्यवाही कुछ सामान्य रूप से शुरू हो गई है, लेकिन राज्यसभा में अगस्ता वेस्टलैंड के मामले को लेकर पक्ष विपक्ष में तकरार की वजह से हंगामा जारी है. हेलीकॉप्टर डील मामले में कांग्रेस पर हमलावर बीजेपी ने चर्चा के लिए नोटिस दिया है. वहीं सत्ता पक्ष के हमले को बेअसर करने के लिए कांग्रेस ने भी आक्रामक तरीक़े से बचाव का रास्ता अख्तियार किया है.

जहां बीजेपी इस डील में कांग्रेसी नेताओं के नाम आने पर जवाब मांग रही है, वहीं कांग्रेस मोदी सरकार की तरफ़ से जांच आगे न बढ़ाने पर सवाल उठा रही है. कांग्रेस की दलील है कि डील में गड़बड़ी की बात सामने आने के बाद उसने फ़िनमेकैनिका को ब्लैक लिस्ट कर दिया था, फिर मोदी सरकार ने उसे ब्लैक लिस्ट से बाहर क्यों किया.

वहीं सरकार का कहना है कि कांग्रेस ने कभी अगस्ता वेस्टलैंड को ब्लैकलिस्ट किया ही नहीं था. सरकार ने कहा है कि अगस्ता वेस्टलैंड डील को लेकर सरकार सीबीआई से रिपोर्ट मांगेगी और अगस्ता वेस्टलैंड और फ़िनमेकौनिका को ब्लैक लिस्ट करने की दिशा में काम करेगी.

राज्यसभा में सुब्रमण्यम स्वामी के खड़े होने पर कांग्रेस ने विरोध जताया. विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा स्वामी सड़क की भाषा बोलते हैं. आसन ने कहा कि स्वामी की बातें रिकॉर्ड में नहीं जायेगी.

पूर्व रक्षामंत्री एके एंटोनी ने कहा कि अगस्ता वेस्टलैंड पर हमने जो सीबीआइ जांच बैठाई उसे सरकार तेज कराये ताकि सच्चाई सामने आये. सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने रूल 167 के तहत राज्यसभा में बोलने की अनुमति मांगी, लेकिन उपसभापति पीजे कुरियन ने कहा कि आसन इस मुद्दे पर विचार करेगा तभी निर्णय लिया जायेगा.

राज्यसभा की कार्यवाही शुरू होने पर विपक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया. राज्यसभा के उपसभापति ने नाराजगी जताते हुए सांसदों से शांत रहने की अपील की. संसदीय कार्य राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि जिस सांसद को बोलना है, उनके समय में हंगामा उनके अधिकारों का हनन है. आसन को उनके अधिकारों की रक्षा करनी चाहिए.

लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खडगे ने पठानकोट मुद्दे पर आज कार्यस्थगन प्रस्ताव दिया है. कांग्रेस सांसदों ने आज लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने पर इस मुद्दे पर हंगामा भी किया.

मोदी अगस्ता वेस्टलैंड डील पर चुप क्यों

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि अगस्ता वेस्टलैंड पर कांग्रेस के दस सवालों का जवाब मैं संसद में दूंगा. अगस्ता वेस्टलैंड पर आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी अगस्ता वेस्टलैंड डील पर चुप क्यों हैं, पहले बीजेपी ने वाड्रा को बख्शा अब वह कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व को बचा रही है? इटली की कोर्ट में जिन लोगों के नाम आये हैं उनकी तुरंत गिरफ्तारी क्यों नहीं हो रही है या उनसे पूछताछ क्यों नहीं हो रही है?

गौरतलब है कि अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदे में सुब्रमण्मय स्वामी द्वारा सोनिया गांधी का नाम उछाले जाने को लेकर राज्यसभा में हुए हंगामे के बाद शांति बनाए रखने की खातिर दो शीर्ष मंत्रियों ने बुधवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ वार्ता की.

सूत्रों ने बताया कि वित्त मंत्री अरुण जेटली और संसदीय मामलों के मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और सदन में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा से बुधवार दोपहर के भोजन पर वार्तालाप की. नायडू ने उन्हें बैठक के लिए आमंत्रित किया था. सुबह सदन का कामकाज एक घंटे तक बाधित रहने के बाद स्थिति सामान्य हो गई.

जांच में पार्टी के सहयोग का आश्वासन देते हुए एंटनी ने आरोप लगाए कि राजग सरकार पिछले दो वर्षों तक सोती रही और कुछ नहीं किया. सोनिया गांधी और कांग्रेस के कुछ अन्य नेताओं के अदालत के फैसले में नाम आने के बारे में पूछने पर एंटनी ने दावा किया कि इटली की अदालत में सुनवाई के दौरान किसी भी गवाह ने इन नामों का जिक्र नहीं किया.

उन्होंने कहा कि संप्रग सरकार ने मामले को लेकर न केवल इटली की अदालत का दरवाजा खटखटाया बल्कि यह भी देखा कि वहां अदालतों में सुनवाई के दौरान रक्षा मंत्रालय और सीबीआई का एक अधिकारी मौजूद रहे.
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>