रात को इन परेशानियों की वजह से रोते हैं बच्चे

Apr 06, 2017
रात को इन परेशानियों की वजह से रोते हैं बच्चे

जब छोटा शिशु पैदा होता है तो वह तुरंत ही बोलने तो लगता नहीं है यह बात हम बखूबी जानते हैं। उसे कम से कम अपनी बात बताने में 3 से 4 साल लग जाते हैं। इसलिए वह अपनी बात को बताने के लिए रोने का सहारा लेते हैं आज हम आपको बताते हैं कि बच्चे कई बार रात को क्यों रोते हैं।

अपनी बात कहने के लिए 
बच्चे अक्सर अपनी बातों को कह नहीं पाते इसलिए वह रोने लगते हैं। अपनी बातों को रो कर वह समझाते हैं कि हमें कोई ना कोई परेशानी है जिसे समझना मां बाप का फर्ज है। रोने से कम्युनिकेशन से उनका गहरा संबंध है।

शारीरिक परेशानी आ
कई बार बच्चे इसलिए भी रोते हैं क्योंकी शरीर में कोई ना कोई परेशानी होती है। या तो उन्हें बुखार होता है या कुछ ऐसी चीज जिससे उनकी नींद टूट जा रही है।

सोने की जगह ठीक ना होना 
कई बार बच्चा इसलिए रोते हैं कि जिस जगह पर उनको सुलाया जाता है वह जगह में उनको अच्छी सी नींद नहीं आती है।

भूख के कारण 
कई बार बच्चे रात को इसलिए रोते हैं कि उंहें बहुत ज्यादा भूख लग जाती है बच्चों को दो-दो घंटे पर कुछ ना कुछ खिलाते पिलाते रहना बहुत जरुरी होता है। वरना उनका गला सूख जाता है।

बिस्तर गीला
यह बच्चों की रोने की वजह होती है जब उनका बिस्तर गीला हो जाता है। तो उन्हें बड़ा ही अजीब लगता है जिस वजह से उन्हें नींद नहीं आती है। इसलिए भी वह बच्चे रात को रोने लगते हैं।

डरावने सपने
कई बार बच्चों को रात में अचानक से डरावने सपने आने लगते हैं जैसे कि उनकी मां को कोई मार रहा है या उनके खिलौने को किसी ने उन से छीन लिया है। इस तरह के सपने आने की वजह से वो रात को रोने लगते हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>