मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की परेशानी बढी, दूसरे दिन भी लंबी पूछताछ

Jun 11, 2016

सीबीआई ने आय से अधिक संपत्ति के कथित मामले में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की परेशानी लगातार बढ़ रही है.

वीरभद्र सिंह से आज लगातार दूसरे दिन पूछताछ की.

गौरतलब है कि वीरभद्र सिंह को पूछताछ के लिए शुक्रवार को दोबारा सीबीआई मुख्यालय पर बुलाया गया. सीबीआई ने कल उनसे सात घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी. सीबीआई सूत्रों ने दावा किया था कि जब उनके खिलाफ मौजूद ‘साक्ष्यों’ से उनका आमना-सामना कराया गया तो वह कोई स्पष्टीकरण नहीं दे पाए.

सीबीआई सूत्रों के अनुसार जांच एजेंसी के पास के बच्चों और पत्नी के नाम पर हासिल की गई संपत्ति के संबंध में वीरभद्र सिंह, उनके सहयोगियों और भागीदारों के खिलाफ आपराधिक धाराओं के तहत पुख्ता सबूत हैं.

ये भी पढ़ें :-  जब वे नकाम होते हैं, तो लोगों को बांटते हैं और मुद्दे से भटकाते है: राहुल गांधी

सीबीआई ने कहा है कि उसकी जांच में कथित तौर पर यह पता चला कि वर्ष 2009 से 2012 तक (संप्रग शासन में) केंद्रीय मंत्री के रूप में सिंह ने अपने और अपने परिवार के सदस्यों के नाम पर कथित तौर पर आय के ज्ञात स्रेतों से लगभग 6.03 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति अर्जित की थी.

 

दिल्ली की एक विशेष अदालत में भ्रष्टाचार रोकथाम कानून के तहत दर्ज प्राथमिकी में वीरभद्र सिंह, उनकी पत्नी प्रतिभा सिंह, एलआईसी एजेंट आनंद चौहान तथा यूनिवर्सल एप्पल एसोसिएट्स लिमिटेड के मालिक चुन्नी लाल चौहान के नाम शामिल हैं. मुख्यमंत्री वीरभद्र ने आरोपों से साफ इनकार किया है.

ये भी पढ़ें :-  2000 दलितों ने दी इस्लाम अपनाने की धमकी, नाले में फेंकी देवी-देवताओं की तस्वीर

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>