चेतन चौहान को (निफ्ट) का प्रमुख बनाये जाने पर विवाद

Jun 20, 2016

पूर्व क्रिकेटर तथा भाजपा के दो बार सांसद रहे चेतन चौहान को राष्ट्रीय फैशन टेक्नोलॉजी संस्थान (निफ्ट) का प्रमुख बनाये जाने पर विवाद खड़ा हो गया है.

कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने विरोध तो किया ही है, सोशल मीडिया पर भी लोगों ने इसकी तीखी प्रतिक्रिया दी है.

इस बीच चौहान ने कहा है कि वह अपना साठ प्रतिशत समय दिल्ली जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए ) को देंगे और बीस प्रतिशत समय निफ्ट को देंगे तथा बीस प्रतिशत समय अपने व्यापार को देंगे.
उन्होंने अपनी नियुक्ति पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को अपना आभार भी प्रकट किया था.

कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि मोदी सरकार निफ्ट को क्रिकेट टेक्नोलॉजी में बदलना चाहती है. उन्होंने कहा कि चौहान लम्बे समय तक डीडीसीए से से जुड़े रहे हैं जहाँ भ्रष्टाचार  के मामलों की अनेक वर्षों से जांच की जा रही है.
उन्होंने यह भी कहा कि सरकार चौहान के इस अद्भुत तजुर्बे का उपयोग फैशन टेक्नोलॉजी संस्थान को डीडीसीए में बदलने में कर रही है.
आम आदमी पार्टी (आप) के प्रवक्ता राघव चड्ढा ने कहा कि डीडीसीए में वित्त मंत्री अरुण जेटली की भ्रष्टाचार की रक्षा करने के लिए चौहान को यह पद इनाम में दिया गया है.
उन्होंने कहा कि इस नियुक्ति से निफ्ट जैसे प्रतिष्ठित संस्थान की गरिमा को ठेस पहुंची है. मोदी सरकार देश के प्रमुख संस्थानों में अजीब नियुक्तियां कर रही है. चौहान का फैशन से क्या लेना-देना, उनकी तो नियुक्ति ही गैरकानूनी है.
निफ्ट कपड़ा मंत्रालय द्वारा स्थापित संस्था है और फैशन के क्षेत्र में देश की अत्यंत प्रतिष्ठित संस्था है और इसके प्रमुख की नियुक्ति राष्ट्रपति करता है.
मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार निफ्ट के प्रमुख पद पर किसी फैशन विशेषज्ञ या अकादमिक जगत की किसी हस्ती को या अन्य विशेषज्ञ को नियुक्त किया जा सकता है.
पुणे फिल्म संस्थान के प्रमुख पद पर गजेन्द्र चौहान को नियुक्त किया गया था तो उनकी योग्यता को लेकर विवाद खड़ा हो गया था.
सोशल मीडिया में भी लोगों ने चौहान को निफ्ट का प्रमुख बनाने पर अचरज जाहिर किया है और कहा है कि क्रिकेट और फैशन के बीच कोई रिश्ता समझ से परे है.
 अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>