सरकार की नजर बैंकों में जमा नकदी और बजट में हो सकते हैं बड़े हलाल

Jan 22, 2017
सरकार की नजर बैंकों में जमा नकदी और बजट में हो सकते हैं बड़े हलाल

नोट बंदी के बाद बैंक में जमा हुई नकदी में मोदी सरकार की पूरी नजर है ।सरकार बैंक में लगभग 1500000 करोड रुपए की जमा राशि का फायदा बजट के रास्ते उठाने के लिए तैयार है । इसके साथ ही सोशल स्कीम के साथ-साथ छोटे कारोबारियों को ज्यादा कर्जा देने का रोडमैप भी बजट में पेश किया जा सकता है।

क्या है तैयारी
वित्त मंत्रालय के साथ जुड़े एक सीनियर अधिकारी के मुताबिक बजट में ज्यादातर ध्यान कम आमदनी वाले लोगों को ज्यादा से ज्यादा लाभ पहुंचाने का होगा । इसमें बैंक का रोल अहम हो सकता है ।जिसके साथ सरकार अपना लोडिंग टारगेट बढ़ा सकती है ।सरकार के लिए यह करना इसलिए आसान है क्योंकि नोट बंदी के बाद बैंक की लोडिंग समर्था बढ़ गई है ।

खेती बाड़ी लोन में बढ़ावा लक्ष्य
सरकार खेती-बाड़ी लोन के लक्ष्य को भी 10 लाख करोड़ कर सकती है। साल 2016 17 में यह लक्ष्य 9 लाख करोड रुपए था ।सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार 2022 तक किसानों की आमदनी को दुगना करने का का लक्ष्य लेकर चल रही है ।इसको देखकर ज्यादा खेती-बाड़ी लोन देने पर फोकस होगा।

मुद्रा लोन में बढ़ेगा फोकस
बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली मुद्रा लोन के रास्ते दिए जाने वाले लोन का लक्ष्य बढ़ा सकती है । खास करके जब इस बार मुद्रा बैंक टारगेट से काफी पीछे चल रहा है ।सरकार का 2016 17 में मुद्रा बैंक से एक लाख करोड़ रुपए का लोन देने का टारगेट था  । इससे सरकार का फोकस खास तौर से नोट बंदी के बाद मुश्किल में आया छोटे कारोबारी पर होगा ।

शिक्षा लोन में भी होगा ध्यान
इस तरह ही सरकार शिक्षा लोगों के टारगेट को भी बढ़ा सकती है ।जिसके साथ ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थी को कर्जा मिल सके।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>