यमन में अब तक के सबसे बड़े हमले से गहराया युद्ध, अमेरिका पर बना दबाव

Oct 13, 2016
यमन में अब तक के सबसे बड़े हमले से गहराया युद्ध, अमेरिका पर बना दबाव

शनिवार को सउदी अरब और उसके सहयोगियों द्वारा यमन में मार्च 2015 में हवाई अभियान शुरू किए जाने के बाद से अब तक का सबसे घातक हमला था। इसमे लगभग 140 लोग मारे गए थे और 600 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। गठबंधन शिया हूथी विद्रोहियों को उखाड़ फेंकने की कोशिश जारी है। विद्रोहियों ने राजधानी पर और उत्तरी यमन के अधिकतर हिस्से पर कब्जा किया हुआ है। ऐसा लगता है कि गठबंधन अंतिम संस्कार में मौजूद हूथी सैन्य नेतृत्व और उसके सहयोगियों के एक बड़े तबके को मिटाने की उम्मीद कर रहा था। लेकिन ऐसा प्रतीत होता है कि यह हमला इस युद्ध को और अधिक गहरा सकता है।
युद्ध को बढ़ावा देने के लिए हूथी विद्रोहियों ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पड़ोसी सउदी अरब और अमेरिकी युद्ध पोतों पर रॉकेट दागे हैं। कई यमनी लोगों का कहना है कि एक संकल्प की दिशा में कदम बढ़ाने की एकमात्र उम्मीद यही है कि सउदी अरब का शीर्ष सहयोगी अमेरिका और अन्य पश्चिमी देश सैन्य बिक्री बंद करे और रियाद पर दबाव बनाए कि वह युद्ध में ढील दे और वार्ताओं की ओर बढ़े।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>