कट जाएंगे या मिट जाएंगे लेकिन अपनी जमीन नहीं छोड़ेंगे: मोहन भागवत

Jun 20, 2016

देश में हिन्दुओं के पलायन पर गहरी चिंता जताते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघ चालक मोहन भागवत ने स्वयंसेवकों को अपनी भूमिका निभाने के लिए आह्वान किया.

भागवत ने रविवार को कहा कि आज बांग्लादेश और पाकिस्तान नहीं, भारत में हिन्दू अपने स्थान को छोड़कर सुरक्षित स्थान पर जाने के लिए पलायन कर रहा है. अपनी जमीन पर ही वह असुरक्षित है लेकिन अब नहीं भागेंगे, कट जाएंगे या मिट जाएंगे लेकिन अपनी जमीन नहीं छोड़ेंगे.

आज हिन्दू समाज में यह भावना फिर से उत्पन्न करने की आवश्यकता है. भागवत रविवार को जोधपुर में आयोजित हिन्दू साम्राज्य दिनोत्सव में जोधपुर, नागौर और चित्तौड़गढ़ प्रांत से आए स्वयंसेवकों को संबोधित कर रहे थे.

उन्होंने शिवाजी महाराज का उदाहरण देते हुए कहा कि जब सुल्तानों के द्वारा इस भूमि को बेचिराग कर दिया गया तब उन्होंने हिन्दू समाज को संगठित कर भगवा फहराया और हिन्दवी साम्राज्य की स्थापना की. उसी प्रकार से आज हम (संघ) भी समाज को खड़ा करने का उद्यम कर रहे हैं.

भागवत ने कहा कि आज हमारे सामने छत्रपति शिवाजी का अनुकरणीय ऐतिहासिक उदाहरण है. इसलिए आज हम उन्हें याद कर रहे हैं. उन्होंने स्वयंसेवकों से कहा कि वे चिंतन करें कि क्या करना है और किन आदर्शों पर चलना है और किस प्रकार का काम करना है.

उन्होंने कहा कि अपनी नित्य शाखाओं में ऐसे गुणों वाले सक्रिय स्वयंसेवक तैयार किए जाएं जिनकी सक्रियता के कारण हिन्दू समाज खड़ा हो जाए और इस देश को शोषण मुक्त, वैभवशाली बनाकर संपूर्ण विश्व के अमंगल का हरण करे. ऐसा भारत खड़े करने का हमारा संकल्प है.

कार्यक्रम की शुरुआत काव्यगीत से हुई और करीब एक घंटे तक कार्यक्रम चला. समापन के बाद सरसंघ चालक मोहन भागवत लालसागर स्थित अपने प्रवास स्थान के लिए रवाना हो गए.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>