दो माह तक ऊंचे बने रहेंगे टमाटर के दाम

Jun 17, 2016
उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अगले दो महीने तक टमाटर के दाम ऊंचाइयों पर बने रहेंगे।

नई दिल्ली, प्रेट्र। खुदरा बाजारों में टमाटर के भाव 80 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गए हैं, मगर इससे जल्द राहत की उम्मीद नहीं है। अगली फसल आने तक इसमें तेजी बनी रहने की आशंका है। टमाटर की नई फसल अगस्त अंत तक आएगी। यह बात खुद उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कही है। टमाटर की कीमतें आम तौर पर हर साल जून से सितंबर के दौरान बढ़ जाती हैं, क्योंकि यह इसकी फसल का मौसम नहीं होता। लेकिन इस बार कीमतों में भारी तेजी दक्षिणी राज्यों में गंभीर सूखे के चलते रबी फसल को हुए नुकसान के कारण आई है।

पढ़ें –

पिछले 15 दिनों में टमाटर की कीमतें आसमान छूने लगी हैं। टमाटर की गुणवत्ता और स्थान विशेष के हिसाब से इसके दाम 80 से 100 रुपये किलो तक जा पहुंचे हैं। राष्ट्रीय राजधानी में मदर डेयरी के सफल आउटलेट पर टमाटर की बिक्री 58 रुपये किलो की दर पर की जा रही है। गोदरेज के नेचर बास्केट में यह 80 रुपये किलो बिक रहा है। कोलकाता में यह 70 रुपये, बेंगलूर में 78 रुपये और चेन्नई में 79 रुपये प्रति किलो के भाव बेचा जा रहा है।

पढ़ें –

सरकार के आरंभिक आकलन के अनुसार पिछले वर्ष के मुकाबले टमाटर का उत्पादन चार से पांच प्रतिशत अधिक रहने का अनुमान है। टमाटर उत्पादन फसल वर्ष 2015-16 (जुलाई से जून) में एक करोड़ 82 लाख टन रहेगा। खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने कहा था कि टमाटर में तेजी मौसमी कारणों से है। इसका रखरखाव मुश्किल होने के कारण कीमत स्थिरीकरण कोष (पीएसएफ) से इसकी खरीद नहीं की जा सकती है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>