अमेरिका में भारतीय खाद्य सामग्री पर लगे सबसे ज्यादा प्रतिबंध, टॉप पर रहा हल्दीराम

Jun 09, 2016
अमेरिकी खाद्य एवं औधषि प्रशासन(एफडीए) ने सबसे ज्यादा 2015 में जिन खाद्य वस्तुओं पर प्रतिबंध लगाए उनमें अधिकतर भारत में बने हल्दीराम के थे।

नई दिल्ली/वॉशिंगटन। पिछले साल भारत के कई राज्यों में नेस्ले की मैगी पर प्रतिबंध के बाद कई और ऐसे मामले देश के बाहर भी सामने आए। अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन(एफडीए) ने अपनी वेबसाइट पर आंकड़े जारी किए उसके मुताबिक साल 2015 में बाकी देशों के मुकाबले सबसे ज्यादा भारतीय खाद्य सामग्रियों पर रोक लगायी गई।

यूएसएफडी की वेबसाइट पर दिए आंकड़े के मुताबिक सबसे ज्यादा जिन स्नैक्स पर रोक लगायी गई वह भारत के नागपुर के उत्पादक हल्दीराम के थे। फरवरी महीने में ‘इंपोर्ट रिफ्यूजल रिपोर्ट’ में सबसे ज्यादा हल्दीराम के उत्पाद थे जिस पर एफडीए ने कार्रवाई की थी। प्रतिबंध के बाद जो बयान जारी किया गया था उसके मुताबिक- “ये उत्पाद ठीक नही है क्योंकि इनमें कीटनाशक रसायनों का इस्तेमाल किया गया है जो धारा 402(ए)(2)(बी) का उल्लंघन है।”

वॉल स्ट्रीट जर्नल के मुताबिक, अमेरिका में साल 2015 के दौरान आधे से भी ज्यादा जिन स्नैक्स उत्पादों को जांच पर उसे बिक्री करने से रोका गया वो सभी हल्दीराम के ही थे।

रिपोर्ट में इन उत्पादों को बिक्री से रोकने की जो वजह बतायी गई वो थी- उन उत्पादों का ठीक तरीके से पैकेजिंग और लेबलिंग नहीं करना जिसके चलते वह उत्पाद अपेक्षा के अनुरूप खड़ा नहीं उतर पाया। एफडीए वेबसाइट ने कहा- भारतीय उत्पादों में कीटनाशों की बड़ी मात्रा, फफूंद और बैक्टीरिया पाए गए।

अमेरिकी एफडीए भारत के बाहर बने नेस्ले की मैंग्गी की भी जांच की। मैग्गी नूडल्स उस समय जांच के घेरे में आया था जब ये कहा गया कि इसमें तय सीमा से कही ज्यादा मोनोसोडियम ग्लूटामेट की मात्रा है। इसके साथ ही, एफडीए ने नेस्ले नूडल्स उत्पाद पर गलत ब्रांडिंग का आरोप लगाते हुए कहा कि लेबल पर जो मात्राएं छापी गई है वो उनमें मौजूद नहीं है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>