2015-16 में बिहार- झारखंड के बैंकों के खिलाफ मिलीं पांच हजार शिकायतें

Aug 20, 2016
2015-16 में बिहार- झारखंड के बैंकों के खिलाफ मिलीं पांच हजार शिकायतें
बैंकिंग ओम्बुड्समैन की रिपोर्ट में बिहार-झारखंड में अलग-अलग बैंकों के खिलाफ 5 हजार से ज्यादा शिकायत दर्ज की गयी है।

नई दिल्ली। बिहार और झारखंड में विभिन्न बैंकों के खिलाफ 5,000 से अधिक शिकायतें दर्ज की गईं। यह पिछले साल की 4,456 शिकायतों की तुलना में 12.27 प्रतिशत अधिक है। बिहार और झारखंड के बैंकिंग ओम्बुड्समैन चंद्रमणि कुमार ने कहा कि इन 5,003 शिकायतों में से 3,441 बिहार से और 1,284 झारखंड से प्राप्त हुईं। इसके अलावा 278 शिकायतें अन्य क्षेत्रों से मिली।

अन्य क्षेत्रों से तात्पर्य यह है कि शिकायतकर्ता बिहार या झारखंड से नहीं है लेकिन बैंक का संबंध इन दोनों में से किसी एक राज्य से है। अधिकतम शिकायतें एसबीआई तथा उसके एसोसिएट बैंकों (2,247) के खिलाफ मिलीं जबकि 2,23 शिकायतें अन्य राष्ट्रीयकृत बैंकों के खिलाफ मिलीं। 337 शिकायतें निजी बैंकों तथा शेष अन्य बैंकों से मिली।

बैंकिंग ओम्बुड्समैन की ‘सालाना रिपोर्ट 2015-16’ जारी की गई। कुमार ने कहा कि ज्यादातर शिकायतें पेंशन मुद्दों, एटीएम, डेबिट या क्रेडिट कार्ड से जुड़ी हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>