इन 194 शेयरों में कल से नहीं होगी ट्रेडिंग, BSE से होंगे डी-लिस्ट

Aug 16, 2016
देश के सबसे पुराने स्टॉक एक्सचेंज बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज से बुधवार को कुल 194 कंपनियां डी-लिस्ट हो जाएगी।

नई दिल्ली। देश के सबसे पुराने स्टॉक एक्सचेंज बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज से बुधवार को कुल 194 कंपनियां डी-लिस्ट हो जाएगी। सरल भाषा में इसका अर्थ यह हुआ कि इन 194 कंपनियों में कल से कोई भी निवेशक या ट्रेडर ट्रेड नहीं कर पाएगा। बॉम्बे स्टॉक एक्चेंज ने आज सर्कुलर जारी कर यह जानकारी दी। गौरतलब है कि इन कंपनियों में ट्रेडिंग बीते 13 वर्षों से सस्पेंड है।

यह कदम जून में एक्सचेंज की ओर से 428 कंपनियों को भेजे गए नोटिस का अगला चरण हैं। इस नोटिस में एक्सचेंज ने कंपनियों को या तो सस्पेंशन को वापस लेने की प्रक्रिया शुरू करने को कहा था या फिर एक्सचेंस से डी-लिस्ट कराने के लिए कहा था। इन सभी कंपनियों में के शेयर एक्सचेंज से सस्पेंड किए जाने की प्रक्रिया में थे। ऐसा इसलिए क्योंकि इन कंपनियों की ओर से बीते करीब 13 वर्षों से लिस्टिंग रेग्युलेशन के तमाम क्लॉज को पूरा नहीं किया गया था।

बीएसई की ओर से जारी सर्कुलर के मुताबिक करीब 13 साल से सस्पेंड पड़ी इन कंपनियों को बुधवार से एक्सचेंज पर डीलिस्ट कर दिया जाएगा। डी-लिस्ट हो जाने के कारण कल से एक्सचेंज पर ये 194 शेयर ट्रेडिंग के लिए उपलब्ध नहीं होंगे। बीएसई ने कहा कि कंपनियों के प्रमोटर को शेयरधारकों से सारे शेयर खरीदने होंगे। शेयर की कीमत एक स्वतंत्र वैल्युअर की ओर से तय की जाएगी। यह वैल्युअर एक्चेंज की ओर से नियुक्त किया जाएगा। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर कुल 5840 कंपनियों में ट्रेड होता है। इस लिहाजस से यह दुनिया का सबसे बड़ा एक्सचेंज है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>