एक्सिस बैंक में विदेशी निवेश के प्रस्ताव को हरी झंडी

Jul 06, 2016
जाने माने निजी क्षेत्र के एक्सिस बैंक को विदेशी पूंजी जुटाने के प्रस्ताव का सरकार ने मंजूरी दे दी है।

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। सरकार ने निजी क्षेत्र के जाने माने बैंक एक्सिस बैंक के विदेशी पूंजी जुटाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। केंद्र के इस फैसले के बाद एक्जिस बैंक में विदेशी हिस्सेदारी मौजूदा 62 प्रतिशत से बढ़कर 74 प्रतिशत हो जाएगी। केंद्र इस फैसले से देश में 12,973 करोड़ रुपये विदेशी निवेश आएगा जिससे छह से सात हजार नौकरियां सृजित होंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट की आर्थिक मामलों संबंधी समिति ने इस प्रस्ताव पर मुहर लगायी।

कैबिनेट के फैसले की जानकारी देते हुए संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि एक्सिस बैंक के इस प्रस्ताव को हरी झंडी मिलने के बाद देश में छह से सात हजार नौकरियां मिलेंगी।

ये भी पढ़ें-

एक्सिस बैंक में विदेशी निवेश विदेशी संस्थागत निवेशकों, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों, अनिवासी भारतीयों, एडीआर और जीडीआर तथा परोक्ष विदेशी निवेश के रूप में आ सकेगा।

उल्लेखनीय है कि इस साल के शुरु में आर्थिक कार्य विभाग के सचिव शक्तिकांत दास की अध्यक्षता वाले एफआइपीबी ने एक्सिस बैंक के प्रस्ताव को सीसीईए के पास भेजा था। असल में एक्सिस बैंक का प्रस्ताव 5000 करोड़ रुपये से अधिक था, इसलिए विदेशी निवेश संव‌र्द्धन बोर्ड ने इसे कैबिनेट की आर्थिक मामलों संबंधी समिति के पास भेजा।

ये भी पढ़ें-

एक्सिस बैंक ने 1994 में परिचालन शुरु किया था। यूटीआइ, एलआइसी और जीआइसी जैसी वित्तीय संस्थाएं इसकी प्रमोटर हैं। इस बीच मंगलवार को एक्सिस बैंक का शेयर 539.60 रुपये पर बंद हुआ जो 0.79 प्रतिशत कम था।

सरकार ने एक्सिस बैंक के प्रस्ताव को हरी झंडी ऐसे समय दी है जब हाल ही में केंद्र ने एक के बाद एक कई सुधारों को लागू करने के लिए कदम उठाए हैं। केंद्र ने एफडीआइ नीति को भी उदार बनाया है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>