बजट ‘फुस्स बम’, दूरदर्शिता की कमी : राहुल गांधी

Feb 01, 2017
बजट ‘फुस्स बम’, दूरदर्शिता की कमी : राहुल गांधी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को आम बजट को एक ‘फुस्स बम’ करार देते हुए कहा कि बजट में दूरदर्शिता की कमी साफ दिखाई दे रही है।

राहुल ने केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली के आम बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए रेलवे की सुरक्षा को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला और सवाल उठाया कि प्रधानमंत्री की स्वप्निल परियोजना ‘बुलेट ट्रेन’ कहां है?

राहुल ने कहा, “हम तो आतिशबाजी की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन उसकी जगह हमें एक फुस्स बम मिला है। बजट में दूरदर्शिता की कमी है।”

राहुल ने कहा, “सरकार ने नोटबंदी के जरिए जो आम जनता को दर्द दिया था, उसके बाद उम्मीद थी कि गरीबों, किसानों और बेरोजगारों के लिए कुछ करेगी, लेकिन इसमें कोई स्पष्ट दृष्टिकोण लक्षित नहीं हो रहा है। वित्तमंत्री ने काफी शेरो-शायरी की और अच्छा भाषण दिया, लेकिन उसका कोई आधार नजर नहीं आया।”

राहुल ने कहा, “वित्तमंत्री का काम रोजगार सृजन, किसानों की परेशानी जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर एक विस्तृत खाका पेश करना है। लेकिन उन्होंने इन बुनियादी बातों पर कुछ नहीं कहा।”

उन्होंने कहा, “अगर वह इस मौके का सचमुच फायदा उठाना चाहते हैं तो उन्हें कुछ बड़ी घोषणाएं करनी चाहिए थीं, खासतौर पर किसानों के लिए।”

राहुल ने कहा, “मोदी ने दो करोड़ नौकरियां सृजित करने का वादा किया था, लेकिन पिछले साल केवल 1.5 करोड़ नौकरियों का सृजन किया गया। यह शर्मनाक है। किसान रो रहे हैं, उन्हें अपने ऋणों पर रियायत की जरूरत है। यह सरकार किसान हितैषी होने का दावा और बड़ी-बड़ी बातें करती है, लेकिन उसने उनके लिए कुछ नहीं किया।”

राहुल ने पूछा, “मोदी ने बुलेट ट्रेन शुरू करने की बात की थी। क्या वह शुरू हुई?”

कांग्रेस नेता ने कहा, “रेलवे की बुनियादी समस्या सुरक्षा की है और इस सरकार का इस मामले में सबसे खराब रिकॉर्ड है। लेकिन क्या उन्होंने सुरक्षा को लेकर कुछ कहा?”

राहुल ने हालांकि राजनीतिक पार्टियों को दिए जाने वाली चंदे को 20,000 से घटाकर 2,000 करने की घोषणा का स्वागत किया।

उन्होंने कहा, “यह एक अच्छा कदम है। राजनीतिक वित्त पोषण में पारदर्शिता लाने वाले किसी भी कदम का हम समर्थन करेंगे।”

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>