सहवाग ने क्या किया कि गांगुली ने उन्हें कहा-‘सीधे भारत भेज दूंगा, होटल भी नहीं जा पाएगा’

Jul 09, 2016
वर्ष 2002 में इंग्लैंड के खिलाफ नेटवेस्ट सीरीज के फाइनल मैच के दौरान सहवाग ने ऐसा किया किया कि गांगुली ने उन्हें कहा, लॉर्ड्स से सीधा भारत भेज दूंगा।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने इंग्लैंड के खिलाफ नेटवेस्ट सीरीज के फाइनल में जीत के बाद लॉर्ड्स की बालकनी में अपनी टी-शर्ट लहराई थी वो वाकया आज भी क्रिकेट फैंस को याद है। मगर इस मैच के दौरान आखिर ऐसा क्या हुआ था कि गांगुली ने सहवाग को कहा था कि ‘सीधे भारत भेज दूंगा, होटल भी नहीं जा पाएगा’।

क्या हुआ था इस मैच में

वर्ष 2002 में नेटवेस्ट सीरीज के फाइनल मैच में इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 325 रन बनाए थे। भारत के सामने जीत के लिए बड़ा स्कोर था। दूसरी पारी में भारतीय पारी की शुरुआत करने गांगुली और सहवाग मैदान पर उतरे। गांगुली ने सहवाग से कहा कि हम 3 फाइनल हार चुके हैं, आज भी लक्ष्य 325 हो गया। मगर सहवाग अपने अंदाज में सीटी बजाते हुए पिच पर जा रहे थे। गांगुली ने फिर चिढते हुए कहा कि हम 3 फाइनल हार चुके हैं और तू सीटी मार रहा है। इस पर वीरू ने कहा आप चिंता मत करो, हम ये मैच जीत रहे हैं। इसके बाद मैच शुरू हुआ और टीम की शुरुआत अच्छी रही। गांगुली ने एक बार फिर सहवाग से कहा कि शुरुआत अच्छी है और अगर हम दोनों 20 ओवस तक खड़े रहे तो 160 के करीब स्कोर हो जाएगा। जिस ओर से रॉनी ईरानी गेंद डालेगा वहां ज्यादा मत मारना। एक ओवर में एक चौका भी ठीक है, बाकी हम दौड़कर बना लेंगे।

ये भी पढ़ें :-  युवराज सिंह ने अपने गुरु मास्टर ब्लास्टर के इस रिकॉर्ड को छोड़ दिया पीछे

खीच गए गांगुली और सहवाग से कह दिया ये

इसके बाद ईरानी की पहली गेंद पर वीरू ने कवर ड्रॉइव शॉट से चौका लगाया। गांगुली बोले वेल प्लेड। अगली गेंद मिडिल स्टंप पर थी, वीरू ने बैठ कर स्वीप शॉट से चौका मारा। गांगुली ने तुरंत कहा कि देख वीरू 8 रन बन गए हैं अब संभल कर खेल। तीसरी गेंद पर वीरू फिर स्वीप शॉट मारने गए, लेकिन बॉल ऑफ स्टंप से बाहर थी तो स्लिप में चौका मार दिया। अब गांगुली झल्ला गए और बोले तू सीधा तो खेल ले। अगली गेंद को वीरू ने फ्लिक कर स्क्वेयर लेग के ऊपर से चौका मार दिया। गांगुली का धैर्य टूट चुका था। गुस्से में तमतमाते हुए बोले, ‘तुझे जो करना है वो कर, अगर आउट हो गया तो लॉर्ड्स से सीधा भारत भेज दूंगा। होटल भी नहीं जा पाएगा।

ये भी पढ़ें :-  ओलिंपिक पदक विजेता पहलवान को अखाड़े में बाबा रामदेव ने किया चित्त

सहवाग और गांगुली ने पहले विकेट के लिए 106 रन जोड़े। इसके बाद लगातार गिरते विकेट से स्कोर 146/5 हो गया। तब युवराज सिंह और मो. कैफ की यादगार बल्लेबाजी से भारत ने 3 गेंद शेष रहते लक्ष्य हासिल किया।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected