बगावत की डर से बिना चेहरे के चुनाव लड़ेगी भाजपा

Oct 25, 2016
बगावत की डर से बिना चेहरे के चुनाव लड़ेगी भाजपा
क्या बगावत की डर से भाजपा बगैर सीएम चेहरे के ही चुनाव लड़ेगी। अगर पार्टी प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्या के बीते दिनों बरेली में दिए बयान की मानें तो पार्टी बगैर किसी को मुख्यमंत्री का दावेदार घोषित किए बिना चुनाव लड़ेगी। उन्होंने बरेली दौरे के दौरान साफ कह दिया था कि भाजपा अपनी स्पष्ट नीति पर चलते हुए बिना चेहरे के चुनाव लड़ेगी। भाजपा विश्व की सबसे बड़ी लोकतांत्रिक पार्टी है। पार्टी का हर कार्यकर्ता मुख्यमंत्री का चेहरा है। इस नाते सीएम का चेहरा बिना चेहरे के चुनाव लड़ेगी।
केशव प्रसाद ने क्या दिया तर्क
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि हरियाणा, महाराष्ट्र और झारखंड में चेहरा घोषित किए बिना चुनाव लड़ा गया और वहां पार्टी की जीत हुई। वहीं भाजपा ने असम और दिल्ली में भी भी चेहरा बनाकर चुनाव लड़ा तो सिर्फ असम में जीत हासिल हुई। केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि पार्टी का केंद्रीय संसदीय बोर्ड जिसका भी नाम घोषित करेगा, उत्तर प्रदेश में चुनाव बाद जीते विधायक उसे ही मुख्यमंत्री मानेंगे। केशव ने दावा किया कि विधानसभा चुनाव में भाजपा तीन सौ से ज्यादा सीटें जीतेगी।
भाजपा सरकार में गिरफ्तार होंगे 
 आजम खां पर चल रहे देशद्रोह के मुकदमे को लेकर गिरफ्तारी न होने के सवाल पर केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि वह भाजपा सरकार में ही गिरफ्तार होंगे। लिहाजा अभी गिरफ्तार नहीं हो रहे हैं। भाजपा सरकार बनने के बाद  अराजक तत्वों को भाजपा सबक सिखाएगी।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>