भाजपा हमारी पार्टी को तोड़ने की कोशिश में : बीजद सांसद

Mar 27, 2017
भाजपा हमारी पार्टी को तोड़ने की कोशिश में : बीजद सांसद

ओडिशा में प्रस्तावित भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से पूर्व बीजू जनता दल (बीजद) के सांसद तथागत सतपथी ने सोमवार को कहा कि भाजपा राज्य में सत्ताधारी पार्टी को विभाजित करने की कोशिश कर रही है।

सतपथी ने कहा कि ऐसी अफवाह है कि बीजद का एक सांसद सत्ताधारी पार्टी में दरार डालने में भाजपा की मदद कर रहा है।

सतपथी ने ट्वीट किया, “भाजपा ओडिशा में, संसद में और विधानसभा में बीजद को विभाजित करने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है। वे एआईएडीएमके जैसा विभाजन चाहते हैं।”

भाजपा सांसद ने लिखा है, “वे बीजद का नाम और चुनाव चिह्न् छीनना चाहते हैं। ऐसी अफवाह है कि सिर्फ एक सांसद उनके लिए यह सबकुछ कर रहा है। हा।”

सतपथी ने कहा है कि भाजपा ओडिशा, गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश में जल्द चुनाव चाहती है।

उन्होंने कहा है, “यदि विभाजन हुआ, चाहे वह छोटा ही क्यों न हो, भाजपा राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश के साथ ओडिशा में भी चुनाव की कोशिश करेगी। क्या निर्वाचन आयोग उनके साथ मिलकर ऐसा करेगा?”

बीजद सांसद ने कहा कि भुवनेश्वर में 15-16 अप्रैल को प्रस्तावित भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भागीदारी राज्य सरकार को समाप्त करने का दबाव बनाने की एक कोशिश है।

सतपथी ने तो उस भाजपा से जुड़ने वाले सांसद का नाम नहीं बताया, लेकिन उनकी पार्टी के सांसद बैजनाथ पांडा ने ट्विटर पर कहा, “उन्हें बोलने की आदत है, एक बार बीजद से निलंबित होने के बाद एक दूसरी पार्टी में शामिल हो गए थे।”

सतपथी को पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में 2000 में बीजद से निलंबित कर दिया गया था। उसके बाद वह ओडिशा गण परिषद (ओजीपी) में शामिल हो गए थे, लेकिन बाद में 2004 के लोकसभा चुनाव से पूर्व बीजद में वापस लौट आए थे।

बीजद प्रवक्ता प्रताप देव ने कहा कि सतपथी की टिप्पणी निजी है और इससे पार्टी का कोई लेना-देना नहीं है।

उन्होंने हालांकि कहा कि जिसने भी पार्टी के साथ धोखा करने की कोशिश की है, उसे दंडित किया गया है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>