पानी के लिए कुदुदंड की महिलाओं ने निगम में किया हंगामा

Jun 04, 2016

पानी के लिए कुदुदंड की महिलाओं ने निगम में किया हंगामा

बिलासपुर(निप्र)। कुदुदंड की महिलाओं ने तीन दिन से पानी नहीं आने से परेशान होकर शुक्रवार को निगम के विकास भवन में जमकर हंगामा किया और आयुक्त कक्ष के सामने धरने पर बैठ गईं। इससे सकते में आए निगम उपायुक्त ने उनके वार्ड में तीन टैंकर पानी भेजकर किसी तरह महिलाओं को समझाया। इसी तरह मिनी बस्ती की महिलाओं ने फिर दूषित पानी आने की शिकायत की है।

नगर निगम कुदुदंड क्षेत्र में पेयजल सप्लाई व्यवस्था को सामान्य नहीं कर पा रहा है। इसका नतीजा यह हो रहा है कि वहां कई दिनों तक ऊपरी क्षेत्र में रहने वालों के यहां पानी नहीं आता। बार-बार शिकायत करने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं होने से नाराज महिलाओं ने शुक्रवार को विकास भवन में आयुक्त कक्ष के सामने धरना दे दिया। इससे वहां हड़कंप मच गया। आनन-फानन में उपायुक्त टॉमसन रात्रे उन्हें समझाईश देने के लिए पहुंचे। इस पर महिलाओं ने बताया कि उनके यहां तीन दिनों से पानी नहीं आ रहा है। बार-बार शिकायत के बाद भी कोई नतीजा नहीं निकलता। अब वे स्थाई समाधान होने के बाद ही विकास भवन से जाएंगी। उपायुक्त ने इस पर तत्काल जल शाखा को वार्ड में जाकर समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए। इसके अलावा महिलाओं की मांग पर तत्काल तीन टैंकर मोहल्ले में भेजा गया। तब कहीं जाकर महिलाओं का गुस्सा शांत हुआ। इसी तरह मिनी बस्ती की महिलाएं भी पानी की समस्या लेकर निगम कार्यालय पहुंचीं। उनका कहना था कि वे कई बार शिकायत कर चुकी हैं, महापौर ने वार्ड का दौरा भी किया था। इसके बाद भी उनके यहां दूषित पानी आने की समस्या का समाधान नहीं हुआ। इससे खुद और बच्चों के बीमार होने का खतरा है। उन्होंने भी निगम में जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। मिनी बस्ती में लोगों ने मुफ्त का पानी लेने के लिए मेन पाइप लाइन को कई जगहों से छेद कर दिया है। उन्हीं जगहों से पेयजल के साथ गंदा पानी भी उनके घरों में आ रहा है। महापौर ने यहां दूसरी लाइन बदलने और लोगों को नल कनेक्शन देने के निर्देश दिए थे। इस पर अब तक गंभीरतापूर्वक काम नहीं हुआ।

पीएचई का बोर फेल टिकरापारा में दूषित पानी

टिकरापारा तात्या टोपे नगर में भातखंडे स्कूल के आसपास के घरों में दूषित पानी आ रहा है। शिकायत की जांच करने पर पता चला कि पीएचई ने पानी टंकी भरने के लिए जो दो बोर किए हैं, वे फेल हो गए हैं। उससे बहुत कम और दूषित पानी टंकी में पहुंच रहा है। इसे देखते हुए निगम ने टंकी से सप्लाई बंद करते हुए सीधे बोर से पेयजल की सप्लाई शुरू कर दी है। इधर निगम के अधीक्षण अभियंता ने पीएचई को पत्र लिखकर वहां टंकी भरने के लिए नया बोर खोदने के निर्देश दिए हैं।

जिन जगहों पर पेयजल सप्लाई को लेकर शिकायत आई है,उनका निराकरण किया जा रहा है। तात्याटोपे नगर में सीधे बोर से पानी सप्लाई करके वहां समस्या का समाधान किया गया है। अन्य जगहों के लिए भी टेक्नीशियन और इंजीनियर लगे हुए हैं।

भागीरथ वर्मा, अधीक्षण अभियंता नगर निगम

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>