संगीत के सुर साध रहे साधक

Jun 25, 2016

संगीत के सुर साध रहे साधक

बिलासपुर(निप्र)। दयालबंद स्थित गुरुद्वारा सिंघ सभा में शुक्रवार को गुरमत संगीत कैंप व राग दरबार का ज्ञान देने तीन दिवसीय कार्यशाला की शुरुआत हुई। इसमें संगीत साधक राग बिलावल, राग आसा, राग कल्याण के अभ्यास के साथ ही तबला व हारमोनियम के साथ अपने संगीत के सुर साध रहे हैं। इसके साथ ही संगीत कलाकार रागों के गाए जाने के समय के साथ ही बेहतर ढंग से सुर लगाने की कला से रूबरू हो रहे हैं।

कार्यशाला के पहले दिन प्रशिक्षार्थियों को गुरु ग्रंथ साहिबजी के 31 रागों की विस्तार से जानकारी दी गई। इसके साथ ही ध्यान करने की विधि और उससे मिलने वाले लाभ के विषय में बताया गया। प्रशिक्षार्थियों ने भी विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में ध्यान क्रिया का अभ्यास किया। इस अवसर पर भोर में गाए जाने वाले रागों के आरोह, अवरोह व आलाप का अभ्यास कराया गया। इसमें राग बिलावल और राग आसा प्रमुख रूप से शामिल रहे। इसी कड़ी में राग कल्याण की भी जानकारी दी गई। इन रागों पर आधारित शबद कीर्तन का अभ्यास कराया गया। इससे पूरा माहौल संगीतमय बना रहा। रागों के साथ तालों के विषय में जानकारी देते हुए दादरा, रूपक, कहरवा, झपताल का अभ्यास करवाया। गायन के साथ ही वादन की जानकारी भी सबसे अहम होती है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए तबले की भी विस्तार से जानकारी दी गई। तबले पर सुरों का अभ्यास करते हुए प्रशिक्षकों अपनी संगीत कला को बेहतर करने अभ्यास करते रहे। सुबह से लेकर शाम तक बड़ी संख्या में प्रशिक्षार्थी संगीत की बारीकियों से रूबरू होते हुए अपनी संगीत को निखारते रहे। इसी कड़ी में देर शाम को राग दरबार की सीख दी गई। इसके साथ ही राग दरबार पर आधारित कीर्तन समागम हुआ। कार्यशाला में पंथ प्रसिद्घ गायकी-संगीत के महारथी सुखवंत सिंह, अलंकार सिंह, बीबी गुरप्रीत कौर, स.अंगद सिंह और स.दिलबाग सिंह प्रशिक्षण दे रहे हैं। कार्यशाला में शहर के साथ ही भिलाई, कवर्धा, तखतपुर, पंडरिया, जमशेदपुर, सरगांव, बिल्हा सहित आसपास के क्षेत्र से बड़ी संख्या में प्रशिक्षार्थी संगीत का ज्ञान ले रहे हैं। आयोजन को सफल बनाने में गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी के अध्यक्ष स.अमरजीत सिंह दुआ, सं.जोगिंदर सिंह गंभीर, सं.सुरजीत सिंह दुआ, स. त्रिलोचन सिंह अरोरा, स.परमजीत सिंह सलूजा सहित प्रबंधन कमेटी के सभी पदाधिकारियों और सदस्यों का योगदान रहा।

ये भी पढ़ें :-  महिला ने मेट्रो के आगे कूद किया आत्महत्या का प्रयास

रविवार को होगा समापन

तीन दिवसीय कार्यशाला का समापन रविवार को होगा। समापन अवसर पर गुरु का अटूट लंगर भी लगेगा।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected