प्रकाश उत्सव में सजा अलौकिक कीर्तन दरबार

Jul 28, 2016

प्रकाश उत्सव में सजा अलौकिक कीर्तन दरबार

बिलासपुर। नईदुनिया न्यूज

सिक्ख धर्म के आठवें गुरु हरिक्रिशन साहेब महाराज के प्रकाश उत्सव के दूसरे दिन गुरुसिंघ सभा दयालबंद में बुधवार को भी अलौकिक कीर्तन दरबार सजा। इससे देर शाम तक भक्ति का माहौल बना रहा।इस अवसर पर श्री दरबार साहेब से आए रागी जत्थों ने शबद कीर्तन पेश किया।

प्रकाश पर्व पर तीन दिवसीय शबद कीर्तन दरबार के दूसरे दिन गुरुद्वारा में सुबह और शाम आलौकिक कीर्तन दरबार सजा। हजुरी रागी जत्था और श्रीदरबार साहिब से आए रागी जत्था भाई करनैल सिंह ने शबद कीर्तन पेश कर साध संगत को निहाल किया। शाम को सजे कीर्तन दरबार में देर शाम तक शबद कीर्तन से गुरु आस्था की अलख जगती रही। इस दौरान बड़ी संख्या में समूह संगत गुरु का आशीष लेने आते रहे। प्रकाश पर्व की खुशी में शाम होते ही गुरुद्वारा रंग-बिरंगी रोशनी से जगमगाता रहा। भक्तिमय आयोजन को सफल बनाने के लिए गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी व पंजाबी सेवा समिति के पदाधिकारी व सदस्य जुटे रहे।

ये भी पढ़ें :-  बिहार विधानसभा में 'दंडवत' करते पहुंचे विधायक

बंटा लंगर

शाम को अलौकिक कीर्तन दरबार के साथ ही समूह संगत को लंगर भी बांटा गया। देर शाम तक बड़ी संख्या में समूह संगत ने प्रसाद ग्रहण किया। इसके साथ ही गुरु भक्ति की राह में सेवादारी भी करते रहे।

आज होगा समापन

समाज के आठवीं पातशाही गुरु हरिक्रिशन साहेब महाराज का प्रकाश पर्व का समापन 28 जुलाई को होगा। इस अवसर पर सुबह 7 बजे से लेकर रात 9.45 बजे तक विशेष दीवान सजेगा। हजुरी रागी जत्था और हजुरी रागी जत्था श्रीदरबार साहिब शबद कीर्तन पेश करेंगे। इसके साथ ही गुरु का अटूट लंगर लगेगा।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected