जब्त बाइक थाने गायब, TI समेत 3 पर केस दर्ज करने का आदेश

Jun 07, 2016

जब्त बाइक थाने गायब, TI समेत 3 पर केस दर्ज करने का आदेश

बिलासपुर(निप्र)। मारपीट के मामले में आरोपी की जब्त बाइक सिविल लाइन थाने से गायब हो गई। इस न्यायालय ने पूर्व टीआई, एएसआई व मालखाना प्रभारी प्रधान आरक्षक के खिलाफ अमानत में खयानत का अपराध दर्ज कर प्रतिवेदन पेश करने का आदेश दिया है।

सिविल लाइन पुलिस ने जनवरी 2002 को घर अंदर घुसकर मारपीट करने के मामले में सिरगिट्टी निवासी शशिकांत उर्फ शशि मिश्रा पिता कृष्ण कुमार मिश्रा को धारा 294, 323, 324, 452, 506, 34 के तहत गिरफ्तार किया। पुलिस ने मामले में आरोपी शशि मिश्रा से उसकी पल्सर मोटरसाइकिल क्रमांक सीजी 10 ई 5304 जब्त की। आरोपी ने जब्त वाहन को सुपुर्द में लेने न्यायालय में आवेदन दिया। न्यायालय ने 13 फरवरी 2002 को जब्त मोटरसाइकिल आवेदक को सुपुर्दनामा में देने का आदेश दिया।

वह न्यायालय का आदेश लेकर सिविल लाइन थाना गया। यहां उसकी मोटरसाइकिल नहीं थी। तत्कालीन टीआई सीएल सिंह ने उसे दो दिन बाद बुलाया। इसके बाद टीआई ने मोटरसाइकिल इधर-उधर होने की बात कही और बदले में बिना दस्तावेज की दूसरी बाइक देने का प्रस्ताव दिया। नहीं मानने पर झूठे मामले में फंसाने की धमकी दी। मामले को लेकर शशि मिश्रा ने न्यायालय में परिवाद पेश किया। परिवाद में तत्कालीन टीआई सीएल सिंह, एएसआई एके शर्मा और मालखाना प्रभारी प्रधान आरक्षक भरत राठौर को पक्षकार बनाया गया।

परिवाद पर प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी संजय कुमार अग्रवाल की अदालत में सुनवाई हुई। न्यायालय ने मामले में तत्कालीन टीआई सीएल सिंह, एएसआई एके शर्मा एवं मालखाना प्रभारी प्रधान आरक्षक भरत राठौर के खिलाफ धारा 409 अमानत में खयानत का मामला पंजीबद्घ कर 27 जुलाई 2016 को न्यायालय में प्रतिवेदन प्रस्तुत करने का आदेश दिया है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>