25 में 20 छात्र प्रेक्टिकल परीक्षा में फेल

Aug 05, 2016

25 में 20 छात्र प्रेक्टिकल परीक्षा में फेल

बिलासपुर।नईदुनिया न्यूज

डीपी विप्र कॉलेज में एमएससी कम्प्यूटर साइंस की प्रेक्टिकल परीक्षा में शामिल 25 में से 20 परीक्षार्थी फेल हो गए हैं। इसे लेकर छात्र-छात्राओं ने गुरुवार को जमकर हंगामा मचाया। उन्होंने प्रभारी प्राचार्य का घेराव कर प्रबंधन पर गड़बड़ी के आरोप लगाए।

डीपी विप्र कॉलेज में गुरुवार को जोरदार हंगामा हुआ। छात्रों ने प्रबंधन पर प्रेक्टिकल परीक्षा में जानबूझकर फेल करने का आरोप लगाया है। जानकारी के मुताबिक बिलासपुर विश्वविद्यालय परीक्षा विभाग ने 3 जुलाई को एमएससी प्रिवियस कम्प्यूटर साइंस का परीक्षा परिणाम घोषित किया। इसमें डीपी विप्र के 80 फीसद परीक्षार्थी फेल घोषित किए गए। जांच पड़ताल करने पर पता चला कि 25 में 20 स्टूडेंट केवल प्रेक्टिकल परीक्षा में फेल हुए हैं। इसके बाद छात्रों का गुस्सा भड़क गया। उन्होंने गुरुवार को प्रभारी प्राचार्य से शिकायत करते हुए जमकर हंगामा मचाया। छात्रों का कहना था कि उन्हें जानबूझकर फेल किया गया है। इसके लिए एचओडी को जिम्मेदार ठहराया गया। परीक्षा परिणाम को जब प्रभारी प्राचार्य ने रिव्यू किया तो यह भी पता चला कि सैद्धांतिक परीक्षा में भी अधिकांश फेल हैं। उन्होंने आश्वासन दिया कि परीक्षा विभाग से संपर्क कर जल्द ही निर्णय देंगे। इसके बाद सभी छात्र लौट गए।

सीएमडी के बाद डीपी में गड़बड़ी

प्रेक्टिकल व इंटरनल परीक्षा में लगातार दो कॉलेजों में बड़ी संख्या में विद्यार्थियों के फेल होने का मामला सामने आने के बाद अब संभाग के सभी कॉलेज परीक्षा परिणाम को इकठ्ठा करने में जुट गए हैं। ताकि यह पता चल सके की संस्था में कितने बच्चे पास और फेल हैं। छात्रों का सीधा आरोप है कि प्रेक्टिकल परीक्षा में फेल करना भविष्य के साथ खिलवाड़ है। खासकर तब जब पेपर अच्छा गया है। इसके लिए एचओडी और एक्सर्टनल को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।

सीएस के 20 छात्र पहुंचे थे। प्रेक्टिकल में फेल होने को लेकर 14 छात्रों ने लिखित में शिकायत की है। परिणाम को लेकर एचओडी और परीक्षा विभाग से जानकारी लेने के बाद ही स्पष्ट बता सकूंगा। बच्चों के भविष्य को देखते हुए जो संभव होगा प्रयास किया जाएगा।

डॉ.विमल पटेल

प्रभारी प्राचार्य, डीपी विप्र कॉलेज

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>