क्राइम ब्रांच के 17 पुलिस कर्मियों की संपत्तियों की हो रही खोजबीन

Jul 05, 2016

क्राइम ब्रांच के 17 पुलिस कर्मियों की संपत्तियों की हो रही खोजबीन

बिलासपुर। नईदुनिया न्यूज

क्राइम ब्रांच में पदस्थापना के दौरान जांच व छापामार कार्रवाई के नाम पर करोड़ों की संपत्ति अर्जित करने वाले 17 पुलिस कर्मियों की संपत्ति की जांच शुरू हो गई है। इसके लिए तहसीलदार ने 42 पटवारियों व राजस्व अधिकारियों की टीम बनाई है।

पुलिस अधीक्षक कार्यालय से इस आशय का पत्र तहसीलदार बिलासपुर को मिला है। जारी पत्र में अलग-अलग तिथियों में क्राइम ब्रांच में पदस्थ पुलिस कर्मियों ने जांच पड़ताल व अन्य कार्रवाई की आड़ में लाखों रुपए की संपत्ति अर्जित कर ली है। बेनामी तरीके से अर्जित की गई संपत्तियों की पड़ताल करने व दस्तावेजी प्रमाण पेश करने कहा है। एसपी कार्यालय से राजस्व विभाग भेजे पत्र की भनक जैसे ही क्राइम ब्रांच के पुराने पुलिस कर्मियों को लगी वे अपने तरीके से इसकी पुष्टि में लग गए हैं। जांच टीम में शामिल राजस्व महकमे से भी संपर्क करने की चर्चा है। गौर करने वाली बात ये है कि पुलिस अधीक्षक को शिकायत मिली थी कि अलग-अलग तिथियों में क्राइम ब्रांच में पदस्थापना के दौरान पुलिस कर्मियों ने जांच के नाम पर जमकर मनमानी की है। इस दौरान बेनामी संपत्ति भी अर्जित की है। शिकायत में इस बात का भी खुलासा किया गया है कि क्राइम ब्रांच के पुलिस कर्मियों की जीवनशैली में व्यापक बदलाव आ गया है। मामूली तनख्वाह पाने वाले इन कर्मियों का रहन-सहन और हावभाव किसी रसूखदार से कम नहीं है। मालूम हो कि शहर में बढ़ते अपराध पर नियंत्रण करने और अपराधियों पर अंकुश लगाने की गरज से पुलिस अधीक्षकों ने अपने कार्यकाल के दौरान क्राइम ब्रांच की स्थापना कर पुलिस कर्मियों की टीम बनाई जाती है। क्राइम ब्रांच के अस्तित्व में रहते तक इसमें शामिल पुलिस कर्मियों की तूती बोलती है। मामलों की जांच पड़ताल से लेकर तमाम पुलिसिया कार्रवाई में इनकी भूमिका काफी अहम रहती है। इसी बात का फायदा भी ये उठा ले जाते हैं ।

ये भी पढ़ें :-  अखिलेश के कदम से जनता में संदेश गया कि सपा मुस्लिम विरोधी है

इनकी संपत्तियों की होगी जांच

पुलिस अधीक्षक कार्यालय से क्राइम ब्रांच में पदस्थ रहे पुलिस कर्मियों की सूची जारी की गई है। जिनकी संपत्ति की पड़ताल की जानी है। इसमें हेमंत आदित्य,जितेश सिंह, शोभित कुमार केंवट, सूरज प्रसाद तिवारी,बलवीर सिंह,सुनील सिसोदिया,लक्ष्मी कश्यप,घनश्याम राठौर, अशफाक खान,अतुल सिंह,जय साहू,कौशलेंद्र बघेल,सरफराज खान,रामलाल खुराना,राजेश्वर क्षत्री व दीपक यादव ।

पुलिस अधीक्षक कार्यालय से मिले पत्र के बाद क्राइम ब्रांच के 17 पुलिस कर्मियों के संपत्ति की जांच के लिए पटवारियों व राजस्व विभाग के अधिकारियों की टीम बनाई गई है। संपत्तियों का विवरण पेश करने के बाद इसे पुलिस अधीक्षक के हवाले किया जाएगा।

ये भी पढ़ें :-  आदित्यनाथ बोले- हाफिज सईद तो गीदड़ है, अगली सर्जिकल स्ट्राइक उसी पर

संदीप ठाकुर-तहसीलदार,बिलासपुर

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected