16 से खुलेंगे स्कूल, रिवीजन के साथ होगी शुरुआत

Jun 04, 2016

16 से खुलेंगे स्कूल, रिवीजन के साथ होगी शुरुआत

बिलासपुर(निप्र)। ग्रीष्म कालीन अवकाश के बाद 16 जून से सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल खुल जाएंगे। पहले दिन रिवीजन के साथ पढ़ाई की शुरुआत की जाएगी। इसमें बच्चों को अप्रैल में कराई गई पढ़ाई पर आधे घंटे का प्रेजेंटेशन देना होगा।

गर्मी की छुट्टी के बाद अब स्कूल फिर से रौनक होने जा रहे हैं। इसके लिए जोरों से तैयारी चल रही है। अभिभावक भी बच्चों के लिए कॉपी, किताब, ड्रेस खरीदने में जुटे हैं। शहर के सभी 52 प्राथमिक, मिडिल, हाईस्कूल व हायर सेकेंडरी में व्यवस्था को लेकर प्राचार्यों व प्रधान पाठकों को पहले ही निर्देश दिए जा चुके हैं। प्राचार्य रंग रोगन व साफ-सफाई का काम पूरा करने का दावा कर रहे हैं। उनका कहना है कि नए सेशन के शुरुआत प्रार्थना से करेंगे। इसके बाद आधे घंटे की रिवीजन क्लास होगी। इसमें अप्रैल में कराई गई पढ़ाई का प्रेजेंटेशन देना होगा। सरकारी स्कूल में पहली बार यह प्रयोग होगा। इसके पहले सीबीएसई स्कूलों में इस तरह रिवीजन होता है। इससे विद्यार्थी ने अप्रैल में की गई पढ़ाई को बेहतर ढंग से याद कर सकेंगे।

ये भी पढ़ें :-  कैराना में महिलाओं से छेड़छाड़ के बाद दो समुदायों के बीच हुई झड़प, 11 घायल

नया सत्र की पढ़ाई में खास

इस सत्र से सरकारी स्कूलों में भी प्रोजेक्टर व ई-बुक्स पर जोर दिया जाएगा। विद्यार्थियों के बैठने में रोटेशन नियम लागू होगा। प्रायोगिक कार्य के लिए पर्याप्त उपकरण मिलेंगे। कमजोर बच्चों पर साल के शुरू से ही शिक्षक विशेष ध्यान देंगे। प्राचार्य कक्ष में स्कूल का रोडमैप नजर आएगा। 10वीं और 12 वीं बोर्ड के छात्रों के लिए ऑनसॉल्ड क्लास लगाने की भी योजना है। एक्सपर्ट की मदद से बच्चों को मानसिक रूप से मजबूत करने का प्रयास होगा।

दीवारों पर होगी चित्रकला

प्राथमिक और मिडिल स्कूल की दीवारों पर बच्चों को ज्ञानवर्धक चित्र देखने को मिलेंगी। इसमें एबीसीडी, पहाड़ा, महापुरुषों के चित्र व नाम, पर्यावरण संरक्षण पर जागरूक करने का प्रयास होगा। इसके बाद कक्षा एक से बारह तक के बच्चों को साफ-सफाई व स्वच्छता को लेकर विशेष रूप से प्रशिक्षित किया जाएगा। इसमें एनएसएस, एनसीसी व स्काउट गाइड की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।

ये भी पढ़ें :-  लालू के बेटे तेज प्रताप 'शिव अवतार' में आए नजर

शासन ने प्राचार्यों को चेताया

शासन ने प्राचार्यों को सत्र शुरू होने से पहले स्पष्ट रूप से चेताया है कि इस वर्ष पढ़ाई में किसी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। विद्यार्थियों और शिक्षकों की उपस्थिति पर जोर देने को कहा है। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम के साथ योग क्लास पर जोर देने के लिए कहा गया है।

प्रधान पाठकों, प्राचार्यों, बीईओ को स्कूल खुलने की जानकारी दे दी है। पहले ही दिन से पढ़ाई पर ध्यान देना होगा। बच्चे अप्रैल में की गई पढ़ाई का प्रेजेंटेशन देंगे।

हेमंत उपाध्याय

जिला शिक्षा अधिकारी बिलासपुर

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected