एक लाख रुपए का इनामी “गैंगस्टर” जिसने हिला दिया बिहार, 80 बैंकों में छुपा रखे हैं “25 करोड़”

Jul 25, 2016

पटना, एक तरफ देश में जहां काले धन को विदेशों में छुपाने की बातें हो रही हैं, वहीं बिहार के एक गैंगस्‍टर ने करोड़ों रुपए भारत के बैंकों में छुपा रखे हैं. दरभंगा जिले में दो इंजीनियरों की हत्‍या के बाद चर्चा में आए गैंगस्‍टर मुकेश पाठक के बारे में ये बातें जानकर पुलिस भी हैरत में पड़ गई है. अपहरण और रंगदारी से इस करोड़ों रुपए जुटा चुके इस कुख्‍यात अपराधी के देशभर में 80 से ज्‍यादा बैंक खाते हैं.

आर्थिक अपराध शाखा (ईओयू) की ओर से किए गए जांच में पता चला है कि मुकेश पाठक ने बिहार, झारखंड, यूपी के मेरठ, ओडिशा, गोवा के वास्कोडिगामा बैंक तक में खाते खुलवा रखे हैं. एक खाता तो उसने झारखंड-ओडिशा की सीमा पर बसे औद्योगिक शहर बहरागोड़ा में भी खुलवा रखे हैं. जांच एजेंसियों को अनुमान है कि इन दोनों ने अपहरण और रंगदारी से करीब 25 करोड़ की संपत्ति बना रखी है.

बैंकों में नकद रखने के साथ मुकेश पाठक जमीन, मार्केट, मकान और ईंट भट्ठे तक में पैसे लगा रखे हैं. मुकेश के सहयोगी या यूं कहें उसके अपराध की दुनिया के गुरु संतोष झा के नाम पर कोलकाता के पास एक फार्म हाऊस का भी पता चला है.

हाल ही में संतोष झा ने सीतामढ़ी में अपने पिता के नाम से कुछ समय पहले ही जमीन खरीदी है. कोलकाता में संतोष झा के दो फ्लैट भी थे. संतोष और मुकेश के गुवाहाटी में स्कूल भी हैं. संतोष की पत्नी और मुकेश का भाई स्कूल चलाते हैं.

हार एसटीएफ ने मुकेश पाठक और उसके गुरु संतोष झा को गिरफ्तार किया था. बिहार सरकार ने इन दोनों अपराधियों पर एक-एक लाख रुपए का इनाम घोषित कर रखा था.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>