बिहार : नवादा में प्रशासन के घेरे में निकली रामनवमी शोभायात्रा

Apr 07, 2017
बिहार : नवादा में प्रशासन के घेरे में निकली रामनवमी शोभायात्रा

बिहार के नवादा में धार्मिक पोस्टर फाड़े जाने और झंडे लगाने को लेकर मंगलवार को उपद्रव और तनाव के बाद शुक्रवार को कड़ी सुरक्षा के बीच रामनवमी की शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा में स्थानीय सांसद और केंद्रीय राज्यमंत्री गिरिराज सिंह और विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता प्रेम कुमार शामिल हुए। नवादा के 11 स्थानों से निकली शोभायात्राएं प्रजातंत्र चौक के पास इकट्ठा हुईं और फिर लंबी शोभायात्रा निकाली गई। इसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हैं।

शोभायात्रा को लेकर जिला प्रशासन सतर्क है। शहर में बड़े पैमाने पर अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात किया गया है।

नवादा के जिलाधिकरी मनोज कुमार ने बताया कि स्थानीय पुलिस के अलावा त्वरित प्रतिक्रिया बल (रैफ ), सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी), आईटीबीपी को तैनात किया गया है।

रामनवमी जुलूस शांतिपूर्ण आयोजित करने के लिए जिला प्रशासन ने पूजा समितियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की थी। इस दौरान जिले में इंटरनेट सेवाएं को बंद कर दी गई थीं।

इससे पहले, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह अपने संसदीय क्षेत्र बिहार के नवादा परिसदन में कमरा नहीं मिलने से नाराज होकर धरने पर बैठ गए।

गिरिराज सिंह यहां शुक्रवार को रामनवमी को लेकर निकलने वाली शोभायात्रा में शामिल होने के लिए पहुंचे थे। वह जब ठहरने के लिए परिसदन में गए, तब उन्हें कमरा उपलब्ध नहीं कराया गया। इससे नाराज होकर वह परिसदन परिसर में ही विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता प्रेम कुमार और बड़ी संख्या में अपने समर्थकों के साथ धरना पर बैठ गए।

केंद्रीय मंत्री ने आरोप लगाया कि सुनियोजित साजिश के तहत ऐसा किया गया है। उन्होंने कहा कि अगर कमरा खाली नहीं था, तब इसकी सूचना उन्हें पहले देनी चाहिए थी। बाद में स्थानीय प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुरोध पर सिंह ने धरना खत्म किया और शोभायात्रा में शामिल हुए।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>