बड़ी रीपोर्ट: इसलिए पश्चिमी देशों में रहने वाले पुरुषों के घट रहे स्पर्म काउंट..

Jul 27, 2017
बड़ी रीपोर्ट: इसलिए पश्चिमी देशों में रहने वाले पुरुषों के घट रहे स्पर्म काउंट..

साइंटिफिक स्टडीज की प्रमुख समीक्षा के हवाले से इस बात का खुलासा हुआ है कि, पश्चिमी देशों में रहने वाले पुरुषों के स्पर्म काउंट में 60 प्रतिशत तक की कमी आई है। इस बात की बड़ी वजह बनता दिख रहा है, आधुनिक दुनिया और लोगों के बदले लाइफस्टाइल। और इस वजह का मुख्य कारण बताया जा रहा है, हार्मोन्स को बाधित करने वाले केमिकल्स, डायट, स्ट्रेस, स्मोकिंग और मोटापा। आपको बता दें के सिर्फ स्पर्म काउंट नहीं बल्कि कई तरह की बीमारियां इससे जुड़ी हुई हैं, जिसमें टेस्टिकुलर कैंसर और मृत्यु दर में बढ़ोतरी जैसी चीजें भी शामिल है।

मोटापे की वजह से भी शुक्राणुओं की संख्या और टेस्टोस्टेरौन का स्तर कम हो जाता है। साथ ही व्यायाम न करना या अधिक कम करना भी इसका बड़ा कारण है। शोधकर्ताओं ने इस मामले में बताया है कि, इजरायल, अमेरिका, डेनमार्क, ब्राजील और स्पेन का कुल स्पर्म काउंट 1971 से 2011 के बीच 59.3% घटा है जबकि यूरोप, नॉर्थ अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और न्यू जीलैंड में स्पर्म काउंट 52.4% तक घटा है।

ये भी पढ़ें :-  पीरियड्स के दौरान इन घरेलू उपचार से पाए राहत

आपकोबाता दें कि, इंडोक्राइन को बाधित करने वाले केमिकल, कीटनाशक, तेज धूप, लाइफस्टाइल फैक्टर्स जिसमें खान-पान, तनाव, धूम्रपान और बॉडी मास इंडेक्स जैसी चीजें स्पर्म काउंट में कमी और वीर्य से जुड़े दूसरे मापदंडों का कारण बनती है। डायट में जरूरत से ज्यादा ऐल्कॉहॉल, कैफीन, प्रोसेड मीट, सोया और आलू के इस्तेमाल का भी इसका कारण बन रहा है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>