नई जगह शिफ्ट करना है तो करो, 31 अगस्त के बाद जिंसी स्लॉटर कर देंगे बंद

Aug 11, 2016

नई जगह शिफ्ट करना है तो करो, 31 अगस्त के बाद जिंसी स्लॉटर कर देंगे बंद

भोपाल। नवदुनिया न्यूज

जिंसी स्थित स्लॉटर हाउस को लेकर नगर निगम और प्रशासन की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ गई हैं। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने स्पष्ट कर दिया है कि 31 अगस्त को हर हाल में जिंसी में चल रहे स्लॉटर हाउस को बंद कर दिया जाए। इसके बाद इसके संचालन की अनुमति आगे नहीं बढ़ाई जाएगी, इसलिए इसकी शिफ्िटग करना है तो अभी कर लो।

जस्टिस दलीप सिंह और डॉ. सत्यवान सिंह गर्बियाल की जूरी ने बुधवार को सुनवाई के दौरान जिला प्रशासन और नगर निगम को इस मामले में 15 दिन की अंतिम मोहलत दी है, साथ ही यह भी कहा है कि प्रशासन चाहे तो इस अवधि में शहर के बाहर नवीन स्थान पर स्लॉटर हाउस के लिए जमीन आवंटन की प्रक्रिया पूरी कर ले। 30 अगस्त को इस मामले में आगे की सुनवाई होगी। इसके साथ ही जिला प्रशासन (हुजूर एसडीएम) को 7 दिन के अंदर मुगलिया कोर्ट गांव में जमीन आवंटन के विरुद्ध आईं सभी आपत्तियों पर संबंधित लोगों का पक्ष सुनकर निर्णय करने के निर्देश दिए हैं। गौरतलब है कि स्लॉटर हाउस की शिफ्िटग के आदेश दिए 11 महीने हो गए हैं, लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ है।

आपत्तियों के कारण जमीन आवंटन में दिक्कत

सरकारी वकील सचिन वर्मा ने एनजीटी को बताया कि स्लॉटर हाउस के लिए मुगलिया कोट गांव में जमीन आवंटन के लिए कलेक्टर ने संभागायुक्त के माध्यम से प्रस्ताव प्रमुख सचिव राजस्व को भेज दिया है। लेकिन यहां स्लॉटर हाउस के लिए जमीन देने के खिलाफ ग्राम पंचायत ने आपत्ति जताई है। स्थानीय विधायक रामेश्वर शर्मा ने भी लिखित आपत्ति दर्ज कराई है। आपत्तियों के निराकरण के बिना जमीन का आवंटन नहीं किया जा सकता है। एनजीटी ने सवाल पूछा कि इन आपत्तियों पर कलेक्टर कब सुनवाई कर रहे हैं, लेकिन सरकारी वकील इसके बारे में नहीं बता सके। सरकारी वकील ने एक माह का समय देने की मांग की, लेकिन एनजीटी ने सिर्फ 1 सप्ताह के अंदर आपत्तियों पर निर्णय लेने के निर्देश दे दिए।

आखिर कब तक चलेगा पिंग-पोंग का खेल?

स्लॉटर हाउस की शिफ्टिंग को लेकर पिछले एक साल से हो रही टालमटोली पर जस्टिस दलीप सिंह ने सख्त टिप्पणी की। जस्टिस सिंह ने कहा कि निगम कमिश्नर, कलेक्टर और प्रमुख सचिव के बीच आखिर कब तक यह पिंग-पोंग (गेंद को एक-दूसरे के पाले में फेंकना) का खेल चलता रहेगा। स्लॉटर हाउस की शिफ्टिंग का आदेश दिए 11 महीने हो गए हैं, लेकिन अब तक जमीन ही फाइल नहीं कर पाए। सब के सब एक दूसरे के पाले में गेंद फेंकने के आलावा कुछ नहीं कर रहे हैं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>