एसकेएस अस्पताल और सोसायटी बेचने का झांसा देकर अध्यक्ष 8.60 करोड़ रुपए लेकर फरार

Jul 09, 2016

एसकेएस अस्पताल और सोसायटी बेचने का झांसा देकर अध्यक्ष 8.60 करोड़ रुपए लेकर फरार

भोपाल। नवदुनिया न्यूज

शहर के एसकेएस अस्पताल और सोसायटी को बेचने के लिए रकम लेकर फरार हुए सोसायटी के अध्यक्ष पर 8.60 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। अस्पताल और सोसायटी बेचने के लिए अनुबंध 22 नवंबर 2015 में किया गया था। तब से अध्यक्ष फरार है।

कोलार थाना पुलिस के अनुसार, मालवीय नगर निवासी डॉ. एसडी सिंह तोमर (42) पिता जीएन सिंह तोमर ने टैगोर गार्डन, दिल्ली निवासी डॉ.एनके शर्मा के खिलाफ गुरुवार को धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। पुलिस को डॉ. तोमर ने बताया कि डॉ.शर्मा ने कोलार के इनायतपुर में संचालित एसकेएस अस्पताल और सोसायटी बेचने के लिए उनसे चेक और नकद के रूप में 8.60 करोड़ रुपए लिए। अनुबंध होने के बाद डॉ.शर्मा ने डॉ. तोमर को सोसायटी का सदस्य बनाया था। अनुबंध के तहत अस्पताल और सोसायटी को तीन माह के अंदर हैंडओवर करना था, जो नहीं किया गया है। डॉ. तोमर का कहना है कि अनुबंध में फर्नीचर मय अस्पताल और सोसायटी मेरे नाम करने की बात थी। मुझे सोसायटी का अध्यक्ष बनाया जाना था, लेकिन डॉ. शर्मा पैसे लेने के बाद से गायब है।

बेचने की भनक लगी तो पहुंचे थाना

डॉ. तोमर को कुछ दिन पहले ही पता चला कि डॉ. शर्मा अस्पताल और सोसायटी किसी और को बेचने जा रहे हैं, तब वे कोलार थाना पहुंचे। डॉ. तोमर ने पुलिस को बताया कि दस्तावेजों में अब भी डॉ.शर्मा ही सोसायटी के अध्यक्ष हैं।

अस्पताल का मालिक भदौरिया

एसकेएस अस्पताल मैनेजमेंट के कोऑर्डिनेटर अमित सिंह भदौरिया ने बताया कि अस्पताल का मालिकाना हक शैलेंद्र सिंह भदौरिया के पास है। डॉ. शर्मा ने सोसायटी और अस्पताल नवंबर 2015 में भदौरिया के नाम किया था। डॉ. शर्मा और डॉ. तोमर के बीच क्या विवाद है हम नहीं जानते। इसके बारे में उन्हीं से जानकारी मिल सकती है।

तथ्य छिपाने का मामला हाईकोर्ट में

डॉ. एनके शर्मा के खिलाफ एसकेएस अस्पताल की 25 एकड़ जमीन तथ्य छुपाकर हासिल करने का मामला हाईकोर्ट में चल रहा है। इस मामले की सुनवाई चल रही है। इसकी अगली तारीख 15 जुलाई है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>