आरएसएस अब सत्ता-संगठन प्रमुखों की दिल्ली में लगाएगा क्लास

Aug 01, 2016

आरएसएस अब सत्ता-संगठन प्रमुखों की दिल्ली में लगाएगा क्लास

भोपाल, ब्यूरो। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अब मध्यप्रदेश के सत्ता-संगठन प्रमुखों की दिल्ली में क्लास लगाएगा। भोपाल में संघ के क्षेत्रप्रचारक के साथ हुई मैराथन बैठक के बाद अब राष्ट्रीय संगठन प्रभारी रामलाल की मौजूदगी में कामकाज की समीक्षा की जाएगी। संघ नेताओं का मानना है कि अगले चुनाव में भाजपा के सामने कांग्रेस नहीं बल्कि भाजपा कार्यकर्ता ही बड़ी चुनौती बनकर उभरेंगे।

बताया जाता है कि अगले सप्ताह दिल्ली में संघ के सह सर कार्यवाह स्तर के पदाधिकारी की उपस्थिति में समीक्षा बैठक बुलाई जाएगी। तारीख अभी तय होना है, स्थान संघ से जुड़ा संस्थान ही रहेगा। भोपाल की समन्वय बैठक में भी कार्यकर्ताओं का मुद्दा उठा, लेकिन कोई निष्कर्ष नहीं निकला। मप्र में तीसरी बार सत्ता में आई भाजपा में अब कार्यकर्ताओं की निराशा की खबरों ने सत्ता-संगठन के साथ पार्टी की मातृ संस्था संघ को भी चिंतित कर दिया है।

ये भी पढ़ें :-  बिहार : प्रश्नपत्र लीक मामले में आईएएस गिरफ्तार, एसोसिएशन नाराज

पिछले महीने 3 नगरीय निकाय चुनाव के नतीजों को भी गंभीरता से लिया गया है। संघ ने अनुषांगिक संगठनों के जरिए जो फीडबैक लिया है, उसमें स्पष्ट हुआ कि यही स्थिति रही तो भाजपा के लिए अगला विधानसभा चुनाव (मिशन 2018) बड़ी चुनौती साबित होगा।

सामने आ चुकी है नाराजगी

संघ को मिले फीडबैक में कार्यकर्ताओं के अलावा सरकार के प्रति अनुषांगिक संगठनों का असंतोष भी सामने आया है। भारतीय किसान संघ की नाराजी कई अवसरों पर सामने आ चुकी है। अखिल भारतीय विार्थी परिषद भी मौजूदा व्यवस्थाओं और कार्यशैली से खुश नहीं है। संघ से जुड़े अन्य संगठनों की तटस्थता को देखते हुए भी यह समीक्षा बैठक बुलाई गई है। कार्यकर्ताओं के साथ इन सभी संगठनों का असंतोष दूर करने के लिए कार्ययोजना पर चर्चा होगी। इसके बाद अगले महीने भोपाल में भी एक समन्वय बैठक का एजेंडा तैयार किया गया है।

ये भी पढ़ें :-  उप्र को दुनिया की फैक्ट्री बनाना मेरा सपना : राहुल

रहेंगे संघ के दिग्गज नेता

दिल्ली बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान, संगठन महामंत्री सुहास भगत के अलावा संघ के प्रमुख पदाधिकारी भी जाएंगे। संघ के सह सर कार्यवाह भैयाजी जोशी अथवा कृष्णगोपाल एवं राष्ट्रीय संगठन महामंत्री के मौजूद रहने की संभावना है। मंत्रिमंडल के वरिष्ठ सदस्य और केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल मप्र के नेताओं के अलावा संगठन के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और सांसद प्रभात झा भी रहेंगे।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected