नेता प्रतिपक्ष ने निगम अफसरों पर दबाव बनाने पहली बार लगाए दो सवाल, फिर हटवा भी दिए

Aug 06, 2016

नेता प्रतिपक्ष ने निगम अफसरों पर दबाव बनाने पहली बार लगाए दो सवाल, फिर हटवा भी दिए

भोपाल। नवदुनिया न्यूज

नगर निगम परिषद में पहली बार नेता प्रतिपक्ष मो.सगीर ने शहर की जनता से जुड़े दो सवाल लगाए थे। लेकिन शनिवार को बैठक होने से पहले ही सवाल वापस ले लिए हैं। ये दो प्रश्न नर्मदा पाइप लाइन बिछाने में हुई गड़बड़ियों को लेकर था। जो शहर का एक अहम और महत्वपूर्ण मुद्दा है। नर्मदा पाइप लाइन बिछाने में हुई आर्थिक अनियमिताओं के मामले में लोकायुक्त ने जलकार्य के नगर यंत्री एके पंवार पर केस भी दर्ज किया है। इस मामले में नगर निगम प्रशासन खुद जांच भी कर रहा है। इस प्रश्न पर जवाब लेने से पहले ही नेता प्रतिपक्ष ने सवाल को ही हटा देने का पत्र परिषद अध्यक्ष सुरजीत सिंह चौहान को लिखा है। उनकी यह मांग मान ली गई है। बताया जाता है कि नेता प्रतिपक्ष अपने कार्यकाल में पहली बार परिषद में प्रश्न लगाया था।

ये भी पढ़ें :-  कर्ज में डूबे किसान ने संसद भवन के सामने खाया जहर, वसुंधरा सरकार के दावों पर फेरा पानी

प्रश्न वापस लेने के संबंध में जब नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि उन्हें अभी जानकारी अधूरी थी, इसलिए इसे हटावा दिया है। अगली बैठक में इस मुद्दे को उठाया जाएगा। उधर, परिषद की बैठक में निगम आयुक्त द्वारा एक लाख तक के कामों को ई-टेंडरिंग के माध्यम से कराने के आदेश को लेकर भी हल्ला हो सकता है। इस मुद्दे पर विपक्ष के साथ सत्तापक्ष के पार्षद व एमआईसी मेंबर भी समर्थन करेंगे।

हबीबगंज आरओबी और गाड़ियों को किराए पर लेने की गड़बड़ी मामले पर नहीं मिलेगा जवाब

शुक्रवार देर रात कांग्रेसी पार्षद गिरीश शर्मा के हबीबगंज आरओबी और प्रदीप सक्सेना के अनुबंधित कारों के उपयोग वाले सवाल को प्रश्न सूची से हटा दिया है। हालांकि महापौर को ये अधिकार है वे किन सवालों को शामिल करें किसको हटाएं, लेकिन सवाल ये भी है कि आखिर इन सवालों से सत्तापक्ष क्यों बचना चाहता है? यह एक बड़ा सवाल है।

ये भी पढ़ें :-  जोड़ियों को देखकर क्या सोचतीं हैं सिंगल लड़कियां, ये होता है उनका दिमागी ख्याल- जानिए

इन मुद्दों पर विपक्ष बोलेगा हमला

शुक्रवार को विपक्ष दल की बैठक हुई। इसमें तय किया गया कि बड़े तालाब में बनी रिटेनिंग वॉल, प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत क्रेडाई के साथ मिलकर आवास का सपना दिखाने के लिए लगाए गए शिविर, नालों पर अतिक्रमण और सफाई नहीं होने के कारण शहर में आई बाढ़ से हुई जनहानि व स्मार्टसिटी के खर्च के मुद्दे पर विपक्ष हंगामा करेगा।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected