भोपाल एनकाउंटर की सच्चाई पर सवाल उठाना मोदी को बर्दाश्त नहीं, उसी की सजा NDTV को मिली: अरशद मदनी

Nov 07, 2016
भोपाल एनकाउंटर की सच्चाई पर सवाल उठाना मोदी को बर्दाश्त नहीं, उसी की सजा NDTV को मिली: अरशद मदनी

जमीअत उलेमा हिंद के अध्यक्ष मौलाना सैयद अरशद मदनी ने न्यूज़ चैनल NDTV पर बैन लगाने पर सरकार की कड़ी आलोचना की। उन्होंने कहा ये तो लोगो की स्वतंत्रता का उल्लंघन और लोकतंत्र पर हमला है।
उन्होंने कहा, निष्पक्ष, ईमानदार और नीडर ही NDTV चैनल की पहचान है जो सरकार बैन लगा कर उसे डराना चाहती है। यही एक मात्र न्यूज़ चैनल है जो गरीब तबके, अल्पसंख्यकों और दलितों के अधिकारों के लिए आवाज उठाता रहा है। और सरकार को हमेशा डराया है।

उन्होंने आगे कहा की जिस वक़्त भोपाल एनकाउंटर पर शिवराज सरकार की वाह वाह में मशगूल थे तो अकेला एनडीटीवी ही उस मुठभेड़ की कई खामियों को उजागर किया था। मीडिया लोकतंत्र का चौथा खम्भा मन जाता है। इस खम्भे के न रहते हुए लोकतंत्र बेहद खतरनाक होगा और देश में तानाशाही को बढ़ावा मिलेगा।

मोलाना मदनी ने आगे कहा की जो लोग आपातकाल लगाने पर 40 साल गुजर जाने पर इंदिरा गांधी दोष देते आये है आज वही उसी रस्ते पर चल पड़े है। मोदी सरकार का यह फैसला देश को आपातकाल की ओर धकेल देगा। NDTV पर भले ही एक दिन के लिए ही बैन लगे लेकिन इससे लोकतंत्र खतरे में पड़ जायेगा।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>